• Hindi News
  • National
  • Bokaro News The Bridge Was Built 11 Years Ago On The Khanojo River The Danger Of The Accident

खांजो नदी पर 11 साल पहले बना पुल हुआ जर्जर,हादसे की आशंका

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
खांजो नदी पुल के दोनों छोर पर क्षतिग्रस्त रैलिंग।

क्या कहते हैं स्थानीय लोग

झारखंड आदिवासी मूलवासी मंच के संयोजक सह दुर्गापुर के पूर्व मुखिया अमरेश कुमार महतो उर्फ अमरलाल महतो, डाॅ अखिलेश्वर महतो, मिथिलेश महतो, बिनोद बिहारी महतो, हेमंत महतो, राजेश्वर महतो, सनातन महतो, फुलेश्वर महतो, सृष्टिधर महतो, हराधन ठाकुर, अर्जुन महतो आदि कई का कहना है कि बनने के समय से ही प्राक्कलन के विपरीत कार्य करने का विरोध किया गया था। ठेकेदार व अधिकारियों को प्राक्कलन के अनुरूप काम करने को कहते रह गए, पर ना ही ठेेकेदार सुना और ना अधिकारियों ने इससे गंभीरता से लिया। इसके कारण रेलिंग जर्जर हो गई। इधर सैकड़ों ग्रामीणों ने बोकारो उपायुक्त से पुल रेलिंग की मरम्मत कराने की मांग की है।

समधान पर पहल करूंगा
विशेष प्रमंडल बोकारो के कार्यपालक अभियंता पंकज कुमार ने बताया कि यह पुल बहुत पुराना मामला है। समय रहते बताए जाने पर निश्चित तौर संवदेक से इसकी मरम्मत करवाई जाती। सही मायने में ज्यादा क्षतिग्रस्त हुआ होगा, तो जिला से बात करके मरम्मत कराई जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि मैं स्वयं स्थल पर जाकर देखूंगा। उसके बाद इसके समाधान पर पहल करूंगा।

रैलिंग की मरम्मत करवाई जाएगी
गिरिडीह लोक सभा क्षेत्र के सांसद चंद्र प्रकाश चैधरी ने कहा कि जिस विभाग से पुल का निर्माण हुआ है। उसी विभाग के उच्च पदाधिकारी से बात कर खांजो नदी पुल के रेलिंग की मरम्मत कराई जाएगी। ताकि ग्रामीणों को किसी प्रकार की क्षति ना हो।

खबरें और भी हैं...