नेकी की दीवार से जरूरतमंदों को मिल रही है राहत

Bokaro News - दीवार से अपने लिए कपड़े ले जाते जरूरतमंद। सिटी रिपोर्टर | बोकारो क्या आपके पास ढेरों ऐसे कपड़े हैं, जिन्हें अब...

Nov 11, 2019, 06:16 AM IST
दीवार से अपने लिए कपड़े ले जाते जरूरतमंद।

सिटी रिपोर्टर | बोकारो

क्या आपके पास ढेरों ऐसे कपड़े हैं, जिन्हें अब नहीं पहनते। बच्चों के खिलौने हैं, जिससे अब वे नहीं खेलते। पुराने बर्तन हैं जो ट्रेंड से बाहर हो गए हैं। इन सामानों को किसी जरूरतमंद को देना चाहते हैं, तो सीधे चले आइए धर्मशाला चौक, चास स्थित ‘नेकी की दीवार’ तक। दरअसल नेकी की दीवार का मतलब है जिनके पास जरूरत से ज्यादा कपड़े, बर्तन, जूते, खिलौने आदि हैं, उसे यहां दे जाएं और जरूरतमंद इसे यहां से ले जाएं। इसका कोई शुल्क नहीं लगता। धर्मशाला चौक, चास में 2016 में दो युवक मुकेश राय और मनोज सिंह ने स्थानीय लोगों की मदद से नेकी की दीवार बनाई। यहां लोग अपने घरों के अनुपयोगी कपड़े डाल दे रहे हैं, जो गरीबों को ठंड में राहत पहुंचा रहे हैं। ठंड अमीरी देखती ना गरीबी, सभी ठंड से कंपकंपा रहे हैं, परंतु युवकों ने ऐसे गरीबों की चिंता करते हुए पहल की है, जिससे ऐसे जरूरतमंद लोगों को मदद मिल रही है। यहां से हर रोज कोई न कोई लाभान्वित होता है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना