--Advertisement--

भास्कर न्यूज| चाईबासा

भास्कर न्यूज| चाईबासा नई दिल्ली के इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में बुधवार को आयोजित राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर न्यूज| चाईबासा

नई दिल्ली के इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में बुधवार को आयोजित राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) की राष्ट्रीय कार्यशाला में झारखण्ड-रूसा के कार्यों की जमकर तारीफ की गई। इस कार्यशाला में देश भर के राज्यों से सरकार के प्रतिनिधि और रूसा पदाधिकारी शामिल हुए। झारखण्ड राज्य के प्रतिनिधि के रूप में रूसा के राज्य नोडल पदाधिकारी डॉ. शम्भु दयाल सिंह मौजूद थे। रूसा झारखण्ड के वित्त प्रबंधक अजीत कुमार भी कार्यशाला में शरीक हुए। कार्यशाला में भारत सरकार की तरफ से झारखण्ड राज्य में रूसा के तहत किए गए कार्यों को पूरे देश के लिए मॉडल बताया गया। साथ ही राज्य नोडल पदाधिकारी डॉ.शंभु दयाल सिंह से आग्रह किया गया की वे अन्य राज्यों को भी झारखण्ड की तरह गुणवत्तापूर्ण कार्य करने के लिए मार्गदर्शन प्रदान करें। साथ ही अन्य राज्यों के प्रतिनिधिगण को भी झारखण्ड राज्य से सीखने की सलाह दी गयी। वित्त मंत्रालय की देखरेख में संचालित पब्लिक फाइनेंस मैनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) को लागू करने में भी झारखण्ड राज्य अव्वल साबित हुआ। यह प्रणाली पारदर्शी और त्वरित भुगतान को सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के अधीन लागू की गयी थी। डॉ. सिंह ने रूसा झारखण्ड की इस उपलब्धि के लिए विभाग के सचिव अजोय कुमार सिंह की दक्ष कार्य संस्कृति और मार्गदर्शन को श्रेय दिया साथ ही रूसा झारखण्ड की पूरी टीम की सराहना की। इस दौरान केन्द्रीय मानव संसाधन विकास विभाग के सचिव केके शर्मा के साथ रूसा के तहत झारखण्ड सहित अन्य राज्यों के उच्च शिक्षा के आगामी रोडमैप पर भी चर्चा हुई।