चाईबासा

--Advertisement--

वर्कर्स कॉलेज प्रशासन को कारण बताओ नोटिस

किताब खरीदारी के लिए सप्लायर द्वारा दबाव डालने के मामले में कोल्हान विश्वविद्यालय प्रशासन ने जमशेदपुर वर्कर्स...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
किताब खरीदारी के लिए सप्लायर द्वारा दबाव डालने के मामले में कोल्हान विश्वविद्यालय प्रशासन ने जमशेदपुर वर्कर्स कॉलेज प्रशासन को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। इसमें कॉलेज के प्राचार्य कक्ष में पहुंचकर भ्रामक तथ्यों से गुमराह करने वाले कथित किताब सप्लायर के खिलाफ की गयी कार्रवाई का ब्योरा मांगा गया है। कॉलेज प्राचार्य डॉ बीएन प्रसाद की ओर से संबंधित मामले में पक्ष पेश किया जा रहा है। प्राचार्य की ओर दावा किया जा रहा है कि संबंधित किताब सप्लायर की ओर से उन्हें किसी तरह की धमकी नहीं दी गयी। इस कारण उन्होंने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। विवि की ओर से प्राचार्य से पूछा गया है कि उन्होंने इस मामले से विवि को अवगत क्यों नहीं कराया। घटना गत 15 फरवरी की है। विवि के एक उच्च पदाधिकारी के संबंधियों का नाम लेकर कथित किताब सप्लायर ने वर्कर्स कॉलेज प्राचार्य पर दबाव बनाने का प्रयास किया। दिशा इंटरप्राइजेज नाम की किताब एजेंसी का प्रतिनिधि बनकर दिनेश शर्मा नाम का व्यक्ति सीधे प्राचार्य कक्ष में घुसा। इस दौरान उसने प्राचार्य से कहा कि कॉलेज में किताबों की खरीद हाेने वाली है। लिहाजा किताबों की सप्लाई का टेंडर उसे दिया जायेे। प्राचार्य ने कहा कि फिलहाल उनके पास किताबों की खरीद के लिए कोई फंड उपलब्ध नहीं है। ऐसे में वह पुस्तकें नहीं खरीद सकते। सप्लायर ने कहा कि वह किताबों की आपूर्ति का ऑर्डर उन्हें दें, तो वह विश्वविद्यालय से फंड की व्यवस्था करा देंगे। प्राचार्य ने कहा कि वह फिलहाल इस मामले में कुछ नहीं कर सकते। सप्लायर ने दोबारा प्राचार्य पर दबाव बनाने का प्रयास किया। जिस समय यह पूरा घटनाक्रम हुआ। इस दौरान मीडिया के लोग प्राचार्य के कक्ष में मौजूद थे।

कोट फरवरी माह में हुई एक घटना के संबंध में कॉलेज प्राचार्य से अपना पक्ष पेश करने को कहा गया है। पूछा गया है कि आखिर किस परिस्थिति में विवि संबंधित प्रकरण से अवगत नहीं कराया गया।

X
Click to listen..