• Home
  • Jharkhand News
  • Chaibasa
  • आधी रात को किसान के घर पहुंचा झुंड से भटका हाथी,आठ साल की बच्ची को पटककर मार डाला
--Advertisement--

आधी रात को किसान के घर पहुंचा झुंड से भटका हाथी,आठ साल की बच्ची को पटककर मार डाला

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:15 AM IST

भास्कर न्यूज | चाईबासा

पिछले करीब एक माह से झूंड से बिछड़े जंगली हाथी ने टोंटो थाना अंतर्गत बड़ा लिसिया गांव निवासी व किसान सूरसिंह हांसदा की 8 वर्षीय बेटी नागुरी हांसदा को पटक- पटक कर मार डाला। साथ ही घर को क्षतिग्रस्त भी कर दिया। घटना 1 मार्च के रात करीब 1.30 बजे की है। जिस समय यह घटना हुई, उस समय करीब 25 घरों वाला पूरा गांव गहरी नींद में सोया हुआ था। इसी बीच अचानक एक जंगली हाथी सूरसिंह हांसदा के घर के पास आ पहुंचा। गजराज ने भोजन की तलाश में सूरसिंह घर की दिवाल को तोड़ दिया व खपरैल की छत को भी नुकसान पहुंचाने लगा। इस पर सूरसिंह की नींद खुल गई। उसने अपनी प|ी को हाथी द्वारा हमला किए जाने की बात बताई। इसके बाद वह बेटी लागुरी हांसदा को भी जगा दिया व भागने लगा। किसी तरह सूरसिंह प|ी के साथ भागने में सफल रहा, लेकिन बेटी लागुरी हांसदा घर में ही फंस गई। तब तक हाथी भी घर में दाखिल हो चुका था। गुस्साए हाथी ने बच्ची को सूंड से उठा लिया व पटक- पटककर मार डाला। घटना के अगले दिन ग्रामीणों ने इसकी जानकारी मुखिया कोलंबस हांसदा को दी। जानकारी मिलते ही मुखिया कोलंबस हांसदा ग्रामीणों के साथ टोंटो थाना पहुंचे व पुलिस को घटना की जानकारी दी। ग्रामीणों के अनुसार, करीब एक माह पूर्व उक्त हाथी अपने झूंड से बिछड़ गया था। झूंड से बिछड़ने के बाद उसने मनोहरपुर थाना क्षेत्र में दो लोगों की हत्या कर दी। इससे पूर्व भी उसी हाथी ने टोंटो थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति की पैरों से कुचलकर जान ले ली है। अब तक यह हाथी चार लोगों को मार चुका है। वन विभाग भी इस क्षेत्र में सक्रिय हो गया है।