मुसीबत के समय बच्चे सहायता के लिए 1098 नंबर करें डायल

Chaibasa News - अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर स्थानीय बाल मंडली में कई कार्यक्रम हुये। कार्यक्रमों में जन जागृति मंच,...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:21 AM IST
Chaibasa News - dial 1098 for child support in times of trouble
अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर स्थानीय बाल मंडली में कई कार्यक्रम हुये। कार्यक्रमों में जन जागृति मंच, आसरा, चाइल्ड लाइन, जन सहभागिता विकास केंद्र तथा साध्वी योग केंद्र की संयुक्त भागीदारी रही। इस दौरान बालिकाओं के बीच रंगारंग कार्यक्रम हुये। वहीं कार्यक्रम के संयोजक व सूत्रधार विकास दोदराजका व सूरज निषाद ने बालिकाओं के लिए प्रश्नोतरी प्रतियोगिता का संचालन किया। इसके बाद बच्चों के लिए समर्पित अंतरराष्ट्रीय व्यक्तित्व नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी और उनकी संस्था बचपन बचाओ आंदोलन के बारे में जानकारी दी गई। कार्यक्रम में बच्चों ने भी अपनी जीवन की रोचक घटनाओं को कहानी के रूप में सुनाया व विभिन्न कार्यक्रमों के द्वारा अपनी प्रतिभाओं का प्रदर्शन किया।

मौके पर जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सहायक खगेंद्र महतो ने बालिका दिवस का महत्व व 11 अक्टूबर को बालिका दिवस मनाने का इतिहास बताया, बालिकाओं ने भी इस अवसर पर ढेर सारे प्रश्न पूछ कर अपनी जिज्ञासा शांत की। कार्यक्रम के दौरान मौजूद बच्चियों व अन्य ने बेटा बेटी एक समान, बेटी का भी कर लो मान। प्यार सहभागिता और सम्मान, बेटी भी परिवार की पूंजी है समाज विकास की कुंजी है जैसे नारे लगाये गये। कार्यक्रम में हिस्सा लेनेवाले बच्चियों को इस मौके पर पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में अभिभावक व मोहल्ले के निवासी भी उपस्थित थे।

ये थे मौजूद : बाल संरक्षण कार्यकर्ता विकास दोदराजका, जन जागृति मंच के सचिव सूरज निषाद सदस्य जगदीश निषाद, नृत्य निर्दशक शांतनु मधेशिया, राकेश, सोनी निषाद, धीरज निषाद, चंपक खत्री, विभाष कुमार, विकास कर्मकार, चाइल्ड लाइन के जनक लता, सुखमति बिरवा, अनंत प्रधान, अनूप, मीनाक्षी सिन्हा, इशिका दोदराजका, स्वीटी दोदराजका, वनिषा दोदराजका,मनीषा, राधिका आदि।

भास्कर न्यूज | चाईबासा

अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर स्थानीय बाल मंडली में कई कार्यक्रम हुये। कार्यक्रमों में जन जागृति मंच, आसरा, चाइल्ड लाइन, जन सहभागिता विकास केंद्र तथा साध्वी योग केंद्र की संयुक्त भागीदारी रही। इस दौरान बालिकाओं के बीच रंगारंग कार्यक्रम हुये। वहीं कार्यक्रम के संयोजक व सूत्रधार विकास दोदराजका व सूरज निषाद ने बालिकाओं के लिए प्रश्नोतरी प्रतियोगिता का संचालन किया। इसके बाद बच्चों के लिए समर्पित अंतरराष्ट्रीय व्यक्तित्व नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी और उनकी संस्था बचपन बचाओ आंदोलन के बारे में जानकारी दी गई। कार्यक्रम में बच्चों ने भी अपनी जीवन की रोचक घटनाओं को कहानी के रूप में सुनाया व विभिन्न कार्यक्रमों के द्वारा अपनी प्रतिभाओं का प्रदर्शन किया।

मौके पर जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सहायक खगेंद्र महतो ने बालिका दिवस का महत्व व 11 अक्टूबर को बालिका दिवस मनाने का इतिहास बताया, बालिकाओं ने भी इस अवसर पर ढेर सारे प्रश्न पूछ कर अपनी जिज्ञासा शांत की। कार्यक्रम के दौरान मौजूद बच्चियों व अन्य ने बेटा बेटी एक समान, बेटी का भी कर लो मान। प्यार सहभागिता और सम्मान, बेटी भी परिवार की पूंजी है समाज विकास की कुंजी है जैसे नारे लगाये गये। कार्यक्रम में हिस्सा लेनेवाले बच्चियों को इस मौके पर पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में अभिभावक व मोहल्ले के निवासी भी उपस्थित थे।

पुस्तक-विमोचन

चाइल्ड लाइन के केंद्र समन्वयक जयदू करजी ने चाइल्ड लाइन के क्रियाकलापों की जानकारी देते हुये बताया कि मुसीबत में पड़े बच्चों के सहायता के लिए 1098 पर कॉल करें। वहीं किशोरी व महिलाओं के लिए कुमारी स्मिता पांडे के द्वारा लिखित पुस्तक दुविधा का विमोचन भी किया।

X
Chaibasa News - dial 1098 for child support in times of trouble
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना