पूर्णिमा बेटे सुजीत के साथ गुवाहाटी में। पूर्णिमा यहां बच्चों के साथ आई हैं, गेम्स में हाउसकीपिंग का काम कर रही हैं।

Chaibasa News - मां ने चार नौकरी कर तीनों बच्चों को खेल में आगे बढ़ाया; ताकि वे गलत संगत में ना पड़ जाएं, आज बच्चे असम की ओर से खेल रहे...

Jan 20, 2020, 07:00 AM IST
Gua News - purnima with son sujit in guwahati purnima is here with the children doing housekeeping in the games
मां ने चार नौकरी कर तीनों बच्चों को खेल में आगे बढ़ाया; ताकि वे गलत संगत में ना पड़ जाएं, आज बच्चे असम की ओर से खेल रहे हैं


पूर्णिमा बेटे सुजीत के साथ गुवाहाटी में। पूर्णिमा यहां बच्चों के साथ आई हैं, गेम्स में हाउसकीपिंग का काम कर रही हैं।

पिता ने बेटी के लिए गांव में अपनी जमीन पर एकेडमी शुरू की, बेटी हैमर थ्रो में एशियन यूथ मेडलिस्ट बनी

राजकिशोर | नई दिल्ली

दिल्ली के सुनील सहरावत यूनिवर्सिटी लेवल के डेकाथलीट थे। इंजरी के कारण आगे नहीं खेल सके। अपने सपने को पूरा करने के लिए बेटी हर्षिता को खेल से जोड़ा। 15 साल की हर्षिता ने एशियन यूथ चैंपियनशिप में हैमर थ्रो में सिल्वर जीता। उससे पहले, हर्षिता नेशनल चैंपियन भी बन चुकी थी। एक साल में तीन बार नेशनल रिकॉर्ड तोड़े। खेलो इंडिया में गोल्ड जीता। हर्षिता की इन उपलब्धियों के पीछे उसकी मेहनत तो है ही, पिता का संघर्ष भी बहुत है। बेटी के लिए पिता ने गांव की पुश्तैनी जमीन पर एकेडमी तक बनाई। सुनील भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड के रजिस्टर्ड वेंडर थे। लेकिन बेटी को खेल में आगे बढ़ाने के लिए 5 साल पहले काम छोड़ दिया। हर्षिता 400 मी की रनर थी। उसका पीटी ऊषा स्कूल में चयन भी हो गया था। लेकिन पिता को पता था कि बेटी रनिंग से ज्यादा थ्रो गेम्स में बेहतर है। इसलिए स्पोर्ट्स गुरूकल में हैमर थ्रो की ट्रेनिंग दिलाना शुरू किया। कुछ समय बाद लोकल नेताओं ने वहां खिलाड़ियों की ट्रेनिंग पर पाबंदी लगा दी। सुनील ने गांव की जमीन पर एकेडमी खोली। सुनील बताते हैं, ‘एकेडमी में 25 थ्रोअर के रहने की व्यवस्था है। उनसे ट्रेनिंग के लिए कोई पैसा नहीं लिया जाता है। पर खाने-पीने के लिए उन्हें खर्च करना पड़ता है। यहां पर बीएसएफ से रिटायर्ड हो चुके थ्रोअर राजबीर सिंह लाठर और एनआईएस कोच अजय नेहरा कोचिंग देते हैं।’ सुनील की प|ी प्ले स्कूल चलाती हैं।

बेटे सुजीत खो-खो, प्रदीप हॉकी, बेटी मालविका फुटबॉल खेलती हैं

Gua News - purnima with son sujit in guwahati purnima is here with the children doing housekeeping in the games
Gua News - purnima with son sujit in guwahati purnima is here with the children doing housekeeping in the games
Gua News - purnima with son sujit in guwahati purnima is here with the children doing housekeeping in the games
X
Gua News - purnima with son sujit in guwahati purnima is here with the children doing housekeeping in the games
Gua News - purnima with son sujit in guwahati purnima is here with the children doing housekeeping in the games
Gua News - purnima with son sujit in guwahati purnima is here with the children doing housekeeping in the games
Gua News - purnima with son sujit in guwahati purnima is here with the children doing housekeeping in the games
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना