एसपी सीट बेल्ट लगा कर रहे जागरूक, वहीं पकड़ाने पर कार चालक ने खुद को डॉक्टर बताया

Chaibasa News - जिला परिवहन विभाग व मुफस्सिल थाना पुलिस के जवानों ने शुक्रवार को बड़ीबाजार में वाहन जांच अभियान चलाया। जांच के...

Sep 14, 2019, 06:28 AM IST
Chaibasa News - sp aware of seat belt car driver calls himself a doctor
जिला परिवहन विभाग व मुफस्सिल थाना पुलिस के जवानों ने शुक्रवार को बड़ीबाजार में वाहन जांच अभियान चलाया। जांच के क्रम में पुलिस ने दो पिकअप वैन सहित 14 वाहनों को जब्त किया। इनमें बिना हेलमेट के 12 बाइक चालक भी शामिल थे। दो पिकअप वैन के चालक बिना सीट बेल्ट के वाहन चलाते पकड़े गए।

इन वाहनों से कुल 31 हजार रुपए की वसूली की गई। जांच अभियान के दौरान एक कार मालिक बिना सीट बेल्ट लगाए पकड़ा गया। पूछने पर उसने खुद को डॉक्टर बताया तो विभाग के कर्मचारियोंं ने स्पीड गवर्नर के कागजात तक चेक कर डाले। ऐसे में उक्त कार मालिक को सीट बेल्ट के 2 हजार के अलावा स्पीड गर्वनर से रिन्युअल नहीं कराने के कारण 5 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया। उक्त डॉक्टर को जुर्माना अंतत: चुकाना पड़ा। इसके बाद ही परिवहन विभाग ने कथित डॉक्टर की कार को छोड़ा। डॉक्टर चक्रधरपुर में प्राइवेट प्रैक्टिस करता है। जबकि सरकारी अस्पताल में वह कार्यरत है। मोटर- व्हीकल के नए नियम लागू होने के बाद से परिवहन विभाग ने हेलमेट सहित वाहनों के इंश्योरेंस, ड्राइविंग लाइसेंस, सीट बेल्ट आदि की जांच कर अब तक 7 लाख 16 हजार रुपए जुर्माने के रूप में वसूली की है।

सोशल मीडिया ग्रुप पर दिनभर वायरल होती रही एसपी की तस्वीर

शुक्रवार को जिले के विभिन्न सोशल मीडिया ग्रुप में जिले के एसपी इंद्रजीत महथा की एक तस्वीर चर्चित रही। जिसमें वे अपनी सरकारी गाड़ी में सीट बेल्ट लगाकर बैठे हैं और अंगरक्षक भी कानून का पालन करते दिख रहे हैं। इस फोटो को वायरल करते हुए मातहतों ने लिखा है कि मोटर व्हिकल कानून का पालन करें और जुर्माना सहित दुर्घटना से बचें।

शहर के एकमात्र केंद्र पर बिना मशीन हो रही थी प्रदूषण जांच, शिकायत के बाद बंद

चाईबासा|चाईबासा शहर का एक मात्र प्रदूषण जांच केंद्र बंद पड़ा हुआ है। शुक्रवार को लोग प्रदूषण केंद्र का चक्कर सुबह से ही लगा रहे थे और वापस जा रहे थे। यह केंद्र क्यों बंद है, इसकी जानकारी आम लोगों को नहीं थी। कार्यालय के बंद दरवाजे पर एक सूचना साटी गई थी। जिसमें लिखा था कि तकनीकी कारणों से केंद्र बंद है। जानकारों का कहना है कि प्रदूषण जांच केंद्र में बगैर मशीन के ही काम किया जा रहा था। इसकी शिकायत कुछ लोगों ने विभागीय अधिकारियों से की थी। इसके बाद से ही कार्यालय पर ताला लटका हुआ है। अब इसका खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है।

Chaibasa News - sp aware of seat belt car driver calls himself a doctor
X
Chaibasa News - sp aware of seat belt car driver calls himself a doctor
Chaibasa News - sp aware of seat belt car driver calls himself a doctor
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना