--Advertisement--

कोर्ट के आदेश पर प्रशासन ने जमीन पर दिलाई दखल

चक्रधरपुर|रविवार को थाना रोड़ निवासी विजय भगेरिया व छोटू मोदक के जमीन विवाद पर कोर्ट के आदेश पर स्थानीय प्रशासन ने...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
चक्रधरपुर|रविवार को थाना रोड़ निवासी विजय भगेरिया व छोटू मोदक के जमीन विवाद पर कोर्ट के आदेश पर स्थानीय प्रशासन ने जमीन पर दखल दिलाया है। पिछले पंद्रह वर्षो से चल रहे वाद को लेकर कोर्ट के आदेश पर पोड़ाहाट कार्यपालक दंडाधिकारी सुरेश कुमार सिन्हा के मौजूदगी में विजय भगेरिया को छोटू मोदक द्वारा कब्जाये जमीन पर दखल दिलाया गया। बता दें कि विजय भगेरिया व छोटू मोदक का थाना रोड़ में स्थित जमीन को लेकर विवाद था।पहला पक्ष बिजय भगेरिया ने 2003 में अपना दखल के लिए सिविल कोर्ट में मामला दायर किया था।वहीं दूसरा पक्ष छोटू मोदक जो की पिछले चालीस वर्षो से उक्त जमीन पर होटल संचालित कर रहा है। उस पर बिजय भगेरिया अपना दावा कर रहा था। वहीं छोटू मोदक उसे दान में मिलने का दावा कर रहा है। रविवार को सिविल कोर्ट के नाजीर व पोड़ाहाट दंडाधिकारी की मौजूदगी में होटल से सारा समान निकलवा कर व होटल को तोडकर पहला पक्ष विजय को दखल दिलाया है। वहीं दूसरा पक्ष अब हाईकोर्ट में जाने की बात कर रहा है। दखल दिलाने के लिए सिविल कोर्ट चाईबासा के नाजीर कमल कुमार सहित एएसआई राजेश कुमार,एएसआई मोहम्मद फकरूद्दिन व पुलिस बल मौजूद थे।

क्या कहते हैं दोनों दावेदार

पहला पक्ष :
विजय भगेरिया का कहना है की उक्त जमीन पर उनका हक है।हमारे पिता जी के चाची का यह जमीन है, जिस पर छोटू मोदक चालीस सालो से कब्जा कर होटल चला रहे है।ना ही जमीन का उनके पास कोई कागजात है, और न ही कोई दान में दिया गया दस्तावेज है।

दूसरा पक्ष : छोटू मोदक का दावा है की उक्त जमीन को रमा बाई के द्वारा हमें अठतालिस वर्ष पहले1969 में दान में दिया गया था।जिस कागज में दान का उल्लेख था उस दस्ताबेज को दिमक चट कर गया है। रमाबाई की ईच्छा थी इस जमीन पर एक भव्य सूर्य मंदिर का निर्माण हो साथ ही हमारे होटल से मंदिर के लिए शुद्ध प्रसाद का भोग बने।