चक्रधरपुर

  • Hindi News
  • Jharkhand News
  • Chakradharpur
  • मोमबत्ती से बच्चों का हाथ जलाने वाली प्राचार्या सुशांति पर मामला दर्ज, निलंबित
--Advertisement--

मोमबत्ती से बच्चों का हाथ जलाने वाली प्राचार्या सुशांति पर मामला दर्ज, निलंबित

शहर के बरुता मेमोरियल पब्लिक स्कूल की प्राचार्या सुशांति हेंब्रम पर बच्चों को प्रताड़ित करने का मामला दर्ज किया...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:15 AM IST
शहर के बरुता मेमोरियल पब्लिक स्कूल की प्राचार्या सुशांति हेंब्रम पर बच्चों को प्रताड़ित करने का मामला दर्ज किया गया है। साथ ही उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। प्राचार्या सुशांति हेंब्रम 30 जनवरी को स्कूल में एक बच्चे के 200 रुपए चोरी को पकड़ने को लेकर कक्षा चार के बच्चों को जलते मोमबत्ती पर हाथ रखवा दिया था। इसी में कई बच्चों का हाथ जल गया था। इसमें से टोकलो रोड निवासी विजय कुमार दास के पुत्र रोशन कुमार दास के हाथ में फफोले हो गए थे। इस मामले की जांच करने गुरुवार को एसडीओ प्रदीप प्रसाद स्कूल पहुंचे। जहां पर घटना को सही पाया। प्राचार्या और बीईईओ तेजिंदर कौर को जमकर फटकार लगाई। वहीं प्राचार्या संशांति हेंब्रम पर मामला दर्ज करने का निर्देश दिया। गंभीर रूप से घायल छात्र रोशन कुमार दास का इलाज जमशेदपुर में कराने तथा उसका खर्च स्कूल को व्यय करने का निर्देश स्कूल सचिव फादर सीके मरांडी को दिया। उनके साथ बीडीओ राम नारायण सिंह, कार्यपालक दंडाधिकारी अनुराधा कुमारी पहुंची थीं। बाद में थाना प्रभारी गोपीनाथ तिवारी पहुंचे और बच्चे के पिता विजय दास के फर्द बयान पर प्राथमिकी दर्ज की। वहीं थाना प्रभारी द्वारा घायल बच्चों का प्राथमिक उपचार अनुमंडल अस्पताल में कराया गया। वहीं बाद में क्षेत्र शिक्षा पदाधिकारी रामपति राम भी जांच करने स्कूल पहुंचे थे।

घायल छात्र व मामले की जांच करते एसडीओ।

बाल संरक्षण समिति की टीम पहुंची स्कूल

गुरुवार को सामाचार पत्रों में महिला प्राचार्या संशांती हेंब्रम की शर्मनाक करतूत प्रकाशित होने के बाद कई पदाधिकारियों ने मामले को सुधी ली। बाल कल्याण समिति रांची के आरती कुजूर ने चाईबासा के डीएलएसए के पीएलबी विकास दोदराजका, सुमिता चौधरी और जिला विविध प्राधिकार के सचिव केके मिश्रा स्कूल भेजा। उन्होंने तत्काल स्कूल पहुंचकर मामले का जानकारी ली। जांच कर रहे पदाधिकारियों से भी मामले की विस्तृत जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बताया कि जांच की रिपोर्ट आयोग और उपायुक्त चाईबासा तथा आरक्षी पदाधिकारी को सौंपी जाएगी। महिला शिक्षिका द्वारा बहुत ही शर्मनाक करतूत की गई है। उनके ऊपर कार्रवाई होनी चाहिए।

एसडीओ ने प्राचार्या और बीईईओ को फटकारा

एसडीओ प्रदीप प्रसाद बरुता मेमोरियल स्कूल घटना का जांच करने पहुंचे, जहां पर देखा कि शिक्षिका द्वारा शर्मनाक कृत्य किया गया है। वहीं इस पर बीईईओ तेजिंदर कौर पर भी लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर फटकारा। उन्होंने कहा कि कर्तब्य का निर्वहन नहीं किया जा रहा है। इस कारण ऐसी घटना घटी है। वहीं प्रबंधन समिति के सचिव फादर सीके मरांडी को भी फटकारा।

स्कूल में 250 विद्यार्थियों पर सिर्फ 13 शिक्षक

बरुता मेमोरियल स्कूल में 250 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। जिसमें 13 शिक्षक-शिक्षिका हैं। इसके बावजूद इतनी बड़ी घटना घटी है। किसी शिक्षकों ने भी प्राचार्य को इस हरकत को रोकने का कोशिश नहीं किया है। विद्यालय प्रबंधन समिति के सचिव सीके मरांडी ने कहा कि प्राचार्या द्वारा बहुत ही शर्मनाक हरकत की गई है। यह माफी के लायक नहीं है। उन्हें निलंबित कर दिया जाएगा।

X
Click to listen..