--Advertisement--

दो वर्षों से अधूरे पड़े पावर सबस्टेशन पर की गई चर्चा

हुडागंदा पंचायत के इचाहातु गांव में शनिवार को निर्माणाधीन लांडूपोदा बिजली पावर सबस्टेशन को लेकर ग्रामीणों की एक...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:20 AM IST
दो वर्षों से अधूरे पड़े पावर सबस्टेशन पर की गई चर्चा
हुडागंदा पंचायत के इचाहातु गांव में शनिवार को निर्माणाधीन लांडूपोदा बिजली पावर सबस्टेशन को लेकर ग्रामीणों की एक बैठक हुडागंदा मुखिया विजय नाग की अध्यक्षता में हुई। बैठक में लांडूपोदा में दो वर्षों से अधूरे पड़े पावर सबस्टेशन को लेकर चर्चा की गई। ग्रामीणों ने बताया कि लगभग 70 से 80 प्रतिशत पावर सबस्टेशन का कार्य पूरा हो चुका है। इसके साथ ही गांव में पेयजल की समस्या को देखते हुए जलमीनार निर्माण की भी मांग की। बैठक को संबोधित करते हुए मुखिया श्री नाग ने कहा कि पावरग्रिड निर्माण कार्य बंद होने के कारण सैकड़ाें गांव के लोगों को इसका लाभ नहीं मिल रहा है। इससे बंदगांव प्रखंड समेत चक्रधरपुर प्रखंड के सैकड़ों गांव लाभ से वंचित हैं। बैठक में रतिकांत प्रधान, सुशांत प्रधान, श्रीराम गागराई, सहदेव प्रधान, विजय गागराई, पूर्णचंद्र आदि थे।

बंदगांव। अधूरे बिजली सब स्टेशन को लेकर बैठक करते ग्रामीण

योजना पूरा होने पर 400 गांवों को मिलेगा लाभ

ग्रामीण क्षेत्र के लिए अलग से कराईकेला के लांडूपोदा में बन रहा पावर सबस्टेशन का कार्य कई वर्षों से बंद है। 28 अगस्त 2014 को योजना का शिलान्यास सांसद लक्ष्मण गिलुवा व पूर्व विधायक सुखराम उरांव ने संयुक्त रूप से किया था। 2016 में कार्य शुरू किया गया। इस योजना को पूरा होने से लगभग 400 गांवों को नियमित बिजली मिलेगी। लेकिन निर्माण कार्य बंद होने से ग्रामीणों मेें नाराजगी है। इस पावर सबस्टेशन से कराईकेला, ओटार, नकटी, जोमरो, बांझीकुसुम, कोलचोकड़ा से लेकर टोकलो तथा केरा, झरझरा, जयपुर, सुरूबुड़ा, बनालता व अन्य गांवों को लाभ मिलेगा।

X
दो वर्षों से अधूरे पड़े पावर सबस्टेशन पर की गई चर्चा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..