Hindi News »Jharkhand »Dakra» सीआईएसएफ का सर्वांगीण विकास कर रहा संरक्षिका

सीआईएसएफ का सर्वांगीण विकास कर रहा संरक्षिका

संरक्षिकाके बैनर तले सीआईएसएफ के बीच समय-समय पर विभिन्न प्रकार के होने वाले कार्यक्रमों के माध्यम से सीआईएसएफ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 05, 2018, 02:25 AM IST

संरक्षिकाके बैनर तले सीआईएसएफ के बीच समय-समय पर विभिन्न प्रकार के होने वाले कार्यक्रमों के माध्यम से सीआईएसएफ परिवार का सर्वांगीण विकास हो रहा है। संरक्षिका के माध्यम से सीआईएसएफ जवानों, उनकी प|ियांे बच्चों के लिए जो कार्यक्रम होते हैं उससे सभी का विकास हो रहा है। उक्त बातंे सीआईएसएफ के डीआईजी एम नंदन ने कहीं। वे गुरुवार को सीआईएसएफ कैंप, डकरा में संरक्षिका के बैनर तले आयोजित मेला सह सांस्कृतिक कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

विशिष्ट अतिथि मौजूद एनके एरिया महाप्रबंधक की प|ी उषा मिश्रा ने कहा कि सीआईएसएफ परिवार का रचनात्मक विकास में संरक्षिका अहम रोल अदा कर रहा है। दूसरे विशिष्ट अतिथि पिपरवार महाप्रबंधक बीपी सिंह ने ऐसे आयोजनों को काम का तनाव दूर करने का एक अच्छा माध्यम बताया। कमांडेंट अशोक जलवानिया ने कहा कि संरक्षिका के बैनर तले सिर्फ जवान बल्कि उसके परिवारों को भी उनके भीतर छुपी कला को प्रदर्शित करने का मौका दिया जाता है। इसके पहले डीआईजी की प|ी संरक्षिका संस्था की अध्यक्ष पदमजा नंदन उषा मिश्रा ने मेला का उदघाटन किया। इसके बाद सीआईएसएफ परिवार के बच्चांे ने एक से बढ़कर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश कर माहौल को इतना अधिक रोमांचित कर दिया कि खुद मुख्य अतिथि और कमांडेंट अपने आप को रोक नहीं सके और दोनों ने मिलकर मंच पर गीत गाकर कार्यक्रम को यादगार बना दिया। स्वागत भाषण सुमन जलवानिया ने की। संचालन महिला इंस्पेक्टर वीना ने किया। मौके पर महाप्रबंधक की प|ी उर्मिला सिंह, पूजा ठाकुर, उर्विस ठाकुर, संदीप, चंदन, धनंजय कुमार, पीके शर्मा, बड़ी संख्या में एनके पिपरवार सीआईएसएफ परिवार सहित अन्य लोग मौजूद थे।

कार्यक्रम का उद््घाटन करतीं डीआईजी की प|ी पदमजा नंदन।

संरक्षिका के मेले में सीआईएसएफ परिवार द्वारा लगाए गए खाने के स्टाॅल में पूरा भारत नजर आया। मेला में दक्षिण भारतीय, उत्तर भारतीय, पश्चिम भारतीय और पूर्वी भारतीय के सभी व्यंजन के स्टाॅल लगाए गए थे। मेला में आए लोगों ने इसका खूब आनंद लिया। सभी स्टॉलों पर भीड़ रही। वहीं, कश्मीर आए गर्म कपड़ा बेचने वाले की भी खूब बिक्री हुई।

2014 में सीआईएसएफ के भूतपूर्व महानिदेशक अरविंद रंजन ने संरक्षिका की स्थापना की थी। प्रथम अध्यक्ष सुपरा रंजन थीं। तब से यह संस्था सीआईएसएफ जवान, उनकी प|ी और बच्चों के सर्वांगीण विकास की दिशा में सफलता पूर्वक काम कर रही है। संरक्षिका का लोगों शक्ति, प्रगति, स्वातंत्रता, एकता महिलाओं का साहस, सामाजिक संतुलन को दर्शाता है। यह जानकारी सुमन जलवानिया ने पत्रकारों को दी। कार्यक्रम में डीआईजी माइक पकड़कर गुनगुनाए भी, जिससे माहौल में खुशहाली गई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dakra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×