• Home
  • Jharkhand News
  • Dakra
  • कोल कर्मियों की पत्नियां पहुंचीं जीएम ऑफिस, कहा-हमारे पतियों की सुविधाएं बढ़ाएं, ड्यूटी आने-जाने में ही थक जाते हैं
--Advertisement--

कोल कर्मियों की पत्नियां पहुंचीं जीएम ऑफिस, कहा-हमारे पतियों की सुविधाएं बढ़ाएं, ड्यूटी आने-जाने में ही थक जाते हैं

सीसीएल की मगध-आम्रपाली परियोजना के कामगारों की प|ियां और परिजनों ने बुनियादी सुविधाएं बढ़ाने की मांग की हैं। कोयला...

Danik Bhaskar | Mar 17, 2018, 04:15 AM IST
सीसीएल की मगध-आम्रपाली परियोजना के कामगारों की प|ियां और परिजनों ने बुनियादी सुविधाएं बढ़ाने की मांग की हैं। कोयला कामगारों की प|ियां शुक्रवार को मगध-आम्रपाली के जीएम कार्यालय पहुंची और घेराव किया।

जीएम की अनुपस्थिति में महिलाओं ने एसओपी अनूप फिलिप और एसओई एंड एमजीएस सरकार को ज्ञापन सौंपी। महिलाओं ने दोनों कोयला अफसरों से कहा कि उनके पति डकरा के सुभाषनगर से प्रतिदिन बस से करीब 100 किलोमीटर का सफर तय करके ड्यूटी आते-जाते हैं। जिस बस से वे आना-जाना करते हैं, वह पूरी तरह खटारा हो गई है। डकरा से आम्रपाली जानेवाली सड़क की स्थिति भी दयनीय है। इससे आने-आने जाने में ही पतिदेव थक जाते हैं। समय की भी काफी बर्बादी होती है। घर आने के बाद न बाजार का काम कर पाते हैं और न ही बच्चों को समय दे पाते हैं। कंपनी हमारे बच्चों के स्कूल जाने के लिए भी कोई वाहन नहीं दी है। इमरजेंसी होने पर कोई वाहन सुविधा नहीं होने से कई तरह की परेशानियों से हमें झेलनी पड़ती हैं। इन सभी समस्याओं के समाधान के लिए परियोजना के पास ही क्वार्टर बनाकर दिया जाए। आवासीय परिसर में छोटा वाहन भी दिया जाए। महिलाओं ने कहा कि कॉलोनी में नियमित रूप से पानी सप्लाई नहीं होती है। सुरक्षा, सड़क व रोशनी तो दूर की बात हैै। घेराव करने आईं महिलाओं को एसओपी ने एरिया के जीएम से सोमवार को वार्ता कराने का आश्वासन दिया। इसके बाद महिलाओं ने कहा कि वार्ता में समस्याओं का समाधान नहीं निकला तो कार्यालय में धरना-प्रदर्शन करेंगे।

समस्याओं को लेकर महिलाओं ने घेरा मगध-आम्रपाली जीएम कार्यालय, सोमवार को महाप्रबंधक से करेंगी वार्ता