• Home
  • Jharkhand News
  • Dakra
  • सरस्वती विद्या मंदिर में भाषण प्रतियोगिता, सम्मानित हुए छात्र
--Advertisement--

सरस्वती विद्या मंदिर में भाषण प्रतियोगिता, सम्मानित हुए छात्र

सरस्वती विद्या मंदिर, करकट्टा में भारत में नैतिक मूल्यों की स्थापना विषय पर संकुल स्तरीय भाषण प्रतियोगिता हुई।...

Danik Bhaskar | Feb 24, 2018, 07:55 AM IST
सरस्वती विद्या मंदिर, करकट्टा में भारत में नैतिक मूल्यों की स्थापना विषय पर संकुल स्तरीय भाषण प्रतियोगिता हुई। कार्यक्रम में विद्या विकास समिति झारखंड के डकरा संकुल में पढ़ने वाले सभी शिशु व विद्या मंदिर के कक्षा छठी में पढ़ने वाले भैया-बहन भाग लिए। कार्यक्रम की शुरूआत मुख्य अतिथि रोहिणी के पीओ मनोज कुमार अग्रवाल व प्रांतीय प्रतिनिधि शैलेंद्रनाथ शाहदेव ने किया। अग्रवाल ने कहा कि सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में पढ़ने वाले भैया-बहनों में नैतिक मूल्यों की भरमार है। आवश्यकता है इसे पूरे भारत के स्कूलों में लागू करने की। डकरा के प्रधानाचार्य बोलाई पंडित व करकट्टा के प्रधानाचार्य शालीग्राम सिंह भी नैतिकता पर अपनी बात रखे। संचालन डॉ. रजनीकांत पाठक ने किया। मौके पर आचार्य बीरेंद्र झा, अरविंद कुमार सिंह, पूनम पाठक, संध्या सिन्हा, पुरुषोत्तम कुमार सिंह, राकेश राय, दिलीप शर्मा, श्रीकांत शर्मा, गौरीशंकर कामिला, गोविंद चौहान, उमेश कुमार, सियाराम सिंह, योगेंद्र सिंह, नीरा सिंह, ओंकार तिवारी, गीता कुमारी व बच्चे उपस्थित थे। इधर, प्रतियोगिता में काजल कुमारी प्रथम, डकरा के सक्षम कुमार झा द्वितीय व करकट्टा की प्रियंका कुमारी तीसरे स्थान पर रही। प्रतियोगिता में सरस्वती विद्या मंदिर करकट्टा, सरस्वती शिशु विद्या मंदिर डकरा, सरस्वती शिशु विद्या मंदिर राय तथा जाह्नवी सशिमं मैक्लुस्कीगंज विद्यालय के पांच-पांच बच्चे शामिल हुए। बच्चों ने निर्धारित समय में नैतिकता पर अपने विचार रखें। महेश मुंडा ने कहा नैतिकता जीवन जीने का तरीका है। चांदनी ने इसे पुरखों का धरोहर बताया।