• Hindi News
  • Jharkhand
  • Dakra
  • आत्म बलिदान के प्राचीन भाव को जागृत कर ही होगा समाज का उत्थान : सुरेंद्रनाथ
विज्ञापन

आत्म बलिदान के प्राचीन भाव को जागृत कर ही होगा समाज का उत्थान : सुरेंद्रनाथ

Dainik Bhaskar

Apr 23, 2018, 02:55 AM IST

Dakra News - भगवान परशुराम तप, धैर्य, पराक्रम, त्याग व ज्ञान के भंडार थे। यह बातें भाजपा नेता सह समाजसेवी सुरेंद्रनाथ पांडे ने...

आत्म बलिदान के प्राचीन भाव को जागृत कर ही होगा समाज का उत्थान : सुरेंद्रनाथ
  • comment
भगवान परशुराम तप, धैर्य, पराक्रम, त्याग व ज्ञान के भंडार थे। यह बातें भाजपा नेता सह समाजसेवी सुरेंद्रनाथ पांडे ने कहीं। वे रविवार को डकरा वीआइपी क्लब में सर्व ब्राह्मण सभा के द्वारा आयोजित परशुराम जयंती समारोह में मुख्य अतिथि थे। उन्होंने कहा कि ब्राह्मण समुदाय के कारण हमारे देश का बच्चा-बच्चा गुरुकुल में बिना किसी भेदभाव के समान रूप से शिक्षा पाकर एक योग्य नागरिक के रूप में अपना योगदान दे रहे हैं।

यदि हम अपना और समाज का उत्थान करना चाहते हैं तो आत्म बलिदान के प्राचीन भाव को ही जागृत करना पड़ेगा। समारोह में झारखंड प्रदेश ब्राह्मण सभा के सचिव सुजीत उपाध्याय ने कहा कि ब्राह्मण समाज में रचनात्मक विकास और सामाजिक उत्थान कैसे हो इसका मंथन करने की आवश्यकता है। समाज के कमजोर, आर्थिक स्थिति परिवारों के लिए राज्य स्तर पर ब्राह्मण युवक-युवती परिचय सम्मेलन और सामूहिक विवाह जैसे कार्यक्रमों का आयोजन किया जाना नितांत आवश्यक हो गया है। संगठन समाज के सभी लोगों को साथ लेकर इनके आयोजन के प्रयास करेगा। वहीं, राजीव मिश्रा ने कहा कि आज ब्राह्मण अपने पूर्वजों के व्यवसाय को छोड़ चुके हैं, बहुत से तो संस्कारों को भी भूल चुके हैं और अतीत से कट चुके हैं। सर्वप्रथम ब्राह्मणों को एकजुट होना होगा। समाज को गरीबी की खाई से निकालने के लिए रोजगार पर ध्यान देना होगा। इसके साथ ही समाज को शिक्षित किया जाए।

समारोह को नव कुमार बनर्जी, अनिल चौबे, विक्की पांडे, अवधेश पांडे, रतन मिश्रा यदि लोगों ने भी संबोधित किया। इसके पूर्व मुख्य अतिथियों द्वारा भगवान परशुराम के चित्र पर मंत्रोच्चारण के साथ पूजा पाठ कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई। बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किए गए। संचालन बीके तिवारी और एके उपाध्याय ने किया। धन्यवाद ज्ञापन दिनेश पांडे ने किया। मौके पर राजीव चटर्जी, मुक्तिनाथ गिरि, प्रमोद पाठक, आनंद झा, सोनू पांडे, जीतेंद्र गिरि सहित सैकड़ों की संख्या में महिला-पुरुष मौजूद थे।

डकरा वीआइपी क्लब में सर्व ब्राह्मण सभा में उपस्थित अतिथिगण। सांस्कृतिक कार्यक्रम में नृत्य प्रस्तुत करतीं छात्राएं।

X
आत्म बलिदान के प्राचीन भाव को जागृत कर ही होगा समाज का उत्थान : सुरेंद्रनाथ
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन