Hindi News »Jharkhand »Dakra» जान जोखिम में डालकर रेलवे पटरी पार से पानी लाते हैं मोहन नगर के लोग

जान जोखिम में डालकर रेलवे पटरी पार से पानी लाते हैं मोहन नगर के लोग

सीसीएल के सबसे बड़े आवासीय कॉलोनी मोहन नगर में इन दिनों पानी के लिए त्राहि-त्राहि मची है। पिछले 15 दिनों से नियमित...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 26, 2018, 05:55 AM IST

  • जान जोखिम में डालकर रेलवे पटरी पार से पानी लाते हैं मोहन नगर के लोग
    +2और स्लाइड देखें
    सीसीएल के सबसे बड़े आवासीय कॉलोनी मोहन नगर में इन दिनों पानी के लिए त्राहि-त्राहि मची है। पिछले 15 दिनों से नियमित पेयजल आपूर्ति न होने से करीब दो हजार घरों के लोग हलकान हैं। क्षेत्र के सारे जल स्रोत सूख गए हैं। हालात ऐसी है कि कॉलोनी के लोग आधा किमी दूरी जान जोखिम में डाल कर रेलवे पटरी पार कर होयर बस्ती के कुआं से पीने का पानी ला रहे हैं। जिस रास्ते पटरी पार कर पानी लाते हैं वह मेन लाइन है, जहां से पैसेंजर, एक्सप्रेस के अलावा मालगाड़ी का आवाजाही लगी रहती है। कॉलोनी के रहने वाले रामप्रवेश और राजेश ने बताया कि पानी समस्या को लेकर कई बार सीसीएल समाधान केंद्र में लिखित आवेदन दिया, लेकिन इस पर कोई सुनवाई नहीं हुई।

    डकरा के होयर बस्ती के कुआं से पीने का पानी भरतीं महिलाएं और बच्चियां।

    15 दिनों से नियमित पेयजल आपूर्ति न होने से दो हजार घरों के लोग हलकान

    राज्य सरकार की ओर से भी व्यवस्था नहीं

    सीसीएल कर्मी के अलावा विस्थापित बस्ती के लोग भी मोहन नगर में रहते हैं, लेकिन राज्य सरकार द्वारा भी पानी की कोई व्यवस्था नहीं किया गया है। सुखी संपन्न लोग मिलजुल कर बोरिंग कर अपना व्यवस्था कर लिए हैं। इन्हें गर्मी हो या कोई भी मौसम पानी की समस्या नहीं होती है।

    एनके एरिया एटक के कार्यकारिणी अध्यक्ष कृष्णा चौहान ने महाप्रबंधक को पत्र लिखकर पेयजल समस्या दूर करने की मांग की है। इस दिशा में कोई पहल जल्द नहीं होती है तो मोहन नगर कॉलोनी के लोग जीएम ऑफिस का घेराव करेंगे।

  • जान जोखिम में डालकर रेलवे पटरी पार से पानी लाते हैं मोहन नगर के लोग
    +2और स्लाइड देखें
  • जान जोखिम में डालकर रेलवे पटरी पार से पानी लाते हैं मोहन नगर के लोग
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dakra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×