Hindi News »Jharkhand »Dhanbad» बाघमारा में चल रहे काला कानून को समाप्त करने की जरूरत : जलेश्वर

बाघमारा में चल रहे काला कानून को समाप्त करने की जरूरत : जलेश्वर

ब्लॉक टू क्षेत्र के संयुक्त मोर्चा की बैठक रविवार को मुराइडीह सामुदायिक भवन में लगनदेव यादव की अध्यक्षता में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:00 AM IST

बाघमारा में चल रहे काला कानून को समाप्त करने की जरूरत : जलेश्वर
ब्लॉक टू क्षेत्र के संयुक्त मोर्चा की बैठक रविवार को मुराइडीह सामुदायिक भवन में लगनदेव यादव की अध्यक्षता में हुई। बैठक के दौरान निर्माणाधीन न्यू मधुबन कोल वाशरी में स्थानीय बेरोजगारों को नियोजन दिलाने की रणनीति बनाई गई। साथ ही पूर्व में हुए आंदोलन से सीख लेते हुए पूरी तैयारी के साथ आंदोलन करने का निर्णय लिया गया। वक्ताओं ने कहा कि बाघमारा में स्थापित काला कानून को जड़ से समाप्त करने के लिए गठित संयुक्त मोर्चा के सदस्य जब तक ईमानदारी पूर्वक आंदोलन में शामिल नहीं होंगे। तब तक लक्ष्य को हासिल नहीं किया जा सकता है। मौके पर पूर्व मंत्री जलेश्वर महतो, जेके झा, इंदल यादव, लगनदेव यादव, अजमूल अंसारी, महताब अंसारी, रंजीत महतो, प्रशांत पांडेय, सुनील रजक, बलदेव वर्मा, गोपाल मिश्रा, सुदेश दास आदि उपस्थित थे।

मुराइडीह में बैठक करते संयुक्त मोर्चा के सदस्य।

आरपार की होगी लड़ाई

बैठक में उपस्थित जदूय के प्रदेश अध्यक्ष सह पूर्व मंत्री जलेश्वर महतो ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि बाघमारा में काला कानून चल रहा है। इसे समाप्त करना जरूरी हो गया है। इस सम्राज्य को ध्वस्त करने के लिए मधुबन वाशरी से मोर्चा द्वारा जो शंखनाद किया गया है वह सराहनीय है। आगे मोर्चा द्वारा अन्याय के खिलाफ जो भी आंदोलन किया जाएगा उसका भरपूर समर्थन करेंगे। उन्होंने कहा कि बेरोजगारों को जागरूक करने के लिए जगह जगह नुक्कड़ नाटक किया जाएगा। जो बेरोजगार नौजवान रोजगार की तलाश में दूसरे प्रदेश पलायन को मजबूर हैं। उन्हें यह एहसास दिलाया जाएगा कि बाघमारा में रोजगार का भरपूर संसाधन उपलब्ध है। पूर्व मंत्री ने कहा कि मोर्चा के सदस्य ईमानदारी पूर्वक आंदोलन को सफल बनाने का काम करें। जब तक एक दूसरे पर विश्वास नहीं होगा, तब तक किसी भी लक्ष्य को प्राप्त नहीं किया जा सकता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhanbad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×