• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • भूूमि घोटाला-यौन उत्पीड़न के आरोपी बनेंगे आईएएस
--Advertisement--

भूूमि घोटाला-यौन उत्पीड़न के आरोपी बनेंगे आईएएस

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:20 AM IST

चंद्रकिशोर : यूपीएससी को मेरा नाम भेजा गया है। एक साजिश के तहत मुझे निंदन की सजा दी गई है।


भीष्म : वर्तमान में खंूटी के डीडीसी भीष्म कुमार से संपर्क करने का प्रयास किया, पर फोन नहीं उठाया।


आईएएस में प्रमोशन के लिए इन अफसरों का हुआ है सलेक्शन

रणेंद्र कुमार, अनिल कु. सिंह, अनिल कु. राय, चितरंजन कुमार, चंद्र किशोर मंडल, कमल जॉन लकड़ा , इकबाल आलम अंसारी, राजेश कु. वर्मा, सुबोध किशोर सोरेन, उदय प्रताप, अशोक कु. सिंह, राजकुमार, रामलखन गुप्ता, शिशिर कु. सिंह, राजेश कु. पाठक, दिनेश प्रसाद, संजय कु. सिंह, रमाकांत सिंह, जगत नारायण प्रसाद, दिलीप टोप्पो, विनोद अनुग्रह मिंज, शशिधर मंडल, दानियल कंडूलना, कमलेश्वर प्रसाद सिंह, नेसार अहमद, दीपक कुमार शाही।

इनका प्रोविजनल सलेक्शन : देवेंद्र भूषण सिंह, भीष्म कुमार, गणेश कुमार, बद्रीनाथ चौबे और विनय कु. राय।


विनय : मैंने एसीबी को अपना पक्ष भेज दिया है। उसका क्या फलाफल निकला, मुझे नहीं मालूम। आपको बताना मैं जरूरी नहीं समझता।


चंद्रमोहन : एक सप्ताह पहले प|ी से समझौता हो गया है। जल्दी ही कोर्ट को इसकी जानकारी दे दी जाएगी।

मुख्य सचिव बोले-सजा पा चुके लोग नहीं बन सकेंगे आईएएस

मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी ने कहा- दिल्ली में 27 मार्च को यूपीएससी के साथ हुई बैठक में 31 नामों पर सहमति बनी है। कुछ नाम प्राेविजनल लिस्ट में रखे गए हैं। वहां से इसकी प्रोसिडिंग आएगी। इस पर राज्य सरकार को अनुमोदन देना है। यदि किसी की सजा (निंदन) के प्रभाव की अवधि चल रही है, तो उन्हें अनफिट किया जाएगा। इसी तरह जिन्हें इंटेग्रिटी नहीं दी गई है, वे भी अनफिट होंगे। यूपीएससी से प्रोसिडिंग की दो कॉपी में आएगी। इस पर सरकार (सीएम) का अनुमोदन लेकर एक कॉपी डीओपीटी और एक कॉपी यूपीएससी को भेजी जाएगी। शेष पेज 02 पर


गणेश : सरकार के निर्देश के बाद ही रसीद काटने का आदेश दिया था।


देवेन्द्र : मेरे खिलाफ यह मामला है। यह मामला अभी चल रहा है, समाप्त नहीं हुआ है।