• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • धनबाद-चंद्रपुरा लाइन पर सिजुआ तक चलेगी मालगाड़ी, पैसेंजर ट्रेन चलने की भी संभावना
--Advertisement--

धनबाद-चंद्रपुरा लाइन पर सिजुआ तक चलेगी मालगाड़ी, पैसेंजर ट्रेन चलने की भी संभावना

बंद धनबाद-चंद्रपुरा रेललाइन पर रेलवे ने सिजुआ तक मालगाड़ी चलाने का निर्णय लिया है। अगले तीन महीने तक मालगाड़ियों...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:30 AM IST
बंद धनबाद-चंद्रपुरा रेललाइन पर रेलवे ने सिजुआ तक मालगाड़ी चलाने का निर्णय लिया है। अगले तीन महीने तक मालगाड़ियों का परिचालन किया जायेगा। इस बीच स्थिति सामान्य रहने पर कतरास तक मालगाड़ी चलाई जा सकती है। ये बातें डीआरएम मनोज कृष्ण अखौरी ने शनिवार को कहीं। हाजीपुर जोन के मुख्य ट्रैकिंग इंजीनियर आरके सिंह के साथ धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन का निरीक्षण करने के बाद वे अपने दफ्तर में मीडिया से बातचीत कर रहे थे। डीआरएम ने कहा कि जल्द ही निरीक्षण की रिपोर्ट रेलवे बोर्ड को भेजी जाएगी। वहां से हरि झंडी मिलते ही सिजुआ तक मालगाड़ी का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा। अखौरी ने कहा कि डीसी लाइन पर बांसजोड़ा, अंगारपथरा और तेतुलिया में रेल लाइन को आग से खतरा है। अंगारपथरा के पास ज्यादा दिक्कत है। अंगारपथरा में आग बुझाने के लिए काम करना पड़ेगा। डीआरएम ने कहा कि सब कुछ ठीक रहा, तो सिजुआ तक सवारी गाड़ी भी चलाने पर विचार किया जा सकता है। डीआरएम ने कहा कि डीसी लाइन पर लंबी दूरी की ट्रेनें चलाने के बजाय पैसेंजर ट्रेन चलाने का प्रयास होगा, ताकि स्थानीय लोगों को इसका लाभ मिल सके।

बांसजोड़ा, अंगारपथरा और तेतुलिया में है आग से खतरा, अंगारपथरा में आग बुझाने का होगा प्रयास : अखौरी

बीसीसीएल का प्रयास शून्य, ट्रेन चलाने की इजाजत नहीं दे रहा डीजीएमएस

डीसी रेल लाइन पिछले नौ माह से बंद है। बीसीसीएल ने इस दिशा में कोई प्रयास नहीं किया। अंगारपथरा में बीसीसीएल ने स्थिति काफी खराब कर दी है। डीजीएमएस का भी रवैया सकारात्मक नहीं है। डीजीएमएस इस रूट पर ट्रेन चलाने का इजाजत देने से मना कर रहा है। डीआरएम ने कहा कि आग बुझाने के लिए प्रयास करना होगा। प्रयास से आग पर काबू पाया जा सकता है। डीआरएम के निरीक्षण से कतरासवासियों में इस रेल लाइन के चालू होने की उम्मीद जगी है। डीआरएम ट्रॉली में सवार होकर कतरासगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंचे थे। वहां लोगों ने अपनी परेशानियां सुनायी।

निरीक्षण के दौरान कतरासगढ़ रेलवे स्टेशन में वहां के निवासियों से बातचीत करते डीआरएम।

हाइवा के धक्के से रेल फाटक क्षतिग्रस्त चालक हिरासत में

सोनारडीह | रेलवे डीआरएम साउथ गोविंदपुर साइडिंग कोइरीडीह साइडिंग सीएचपी व टुंडू साइडिंग का निरीक्षण किया। डीआरएम जब सोनारडीह हॉल्ट के पास निरीक्षण कर रहे थे, उसी समय सोनारडीह फाटक को बंद किया जा रहा था। बंद होने के क्रम में कोयला लदा एक हाइवा ने फाटक को धक्का मार दिया। इससे फाटक क्षतिग्रस्त हो गया। इससे नाराज डीआरएम ने हाइवा चालक को हिरासत में लेने व हाइवा को जब्त करने का आदेश जीआरपी को दिया। डीआरएम के आदेश पर जीआरपी की टीम चालक को हिरासत में लेकर धनबाद ले गई। कोयला लदा हाइवा को भी जीआरपी ने अपने कब्जे में ले लिया।