• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • शाम में 30-45 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से बही हवा कई क्षेत्रों में झमाझम बारिश, ओले भी गिरे, पारा लुढ़का
--Advertisement--

शाम में 30-45 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से बही हवा कई क्षेत्रों में झमाझम बारिश, ओले भी गिरे, पारा लुढ़का

शाम में छाया अंधेरा...। धूल की उड़ी आंधी...। झमाझम हुई बारिश...। आसमान से गिरे ओले...। धनबाद में रविवार को काल- वैशाखी की...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:55 AM IST
शाम में छाया अंधेरा...। धूल की उड़ी आंधी...। झमाझम हुई बारिश...। आसमान से गिरे ओले...। धनबाद में रविवार को काल- वैशाखी की स्थिति बनी और मौसम का मिजाज बदल गया। मौसम विभाग के अनुसार मार्च से अप्रैल के बीच कई बार इस तरह के हालात बनते हैं। ठंड के जाने के बाद अचानक बढ़ने वाला तापमान मौसम का सूखा बना देता है। नमी के कारण लोकल थंडर स्टॉर्म विकसित होता है। जिसके कारण आंधी-पानी और ओलावृष्टि की संभावना बनती है। इस स्थिति को काल - वैशाखी कहते हैं। मौसम विभाग ने बताया कि शाम 4 बजे के बाद काल-वैशाखी की स्थिति मजबूत हो गई। झारखंड के आसमान में ऊपरी हवा का चक्रवात सक्रिय हो गया। शाम 5 बजते-बजते आसमान में अंधेरा छा गया। इसके प्रभाव से 30 से 45 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं बहनी लगी।

धूल की आंधी से आसमान ढक गया। शहर के कई इलाकों में बारिश शुरू हो गई। कुछ जगहों पर ओले भी गिरे। शाम 8 बजे तक बारिश का झमाझम जारी रहा। रातभर बादल मंडराते नजर आए। बारिश की स्थिति बनती रही। अचानक बदले इस मौसम ने रात का न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस तक गिरा दिया। रात 12 बजे न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

रविवार की शाम पांच बजे तेज आंधी के साथ जोरदार बारिश से सड़कों पर सन्नाटा छा गया। गाड़ियों को लाइट जलानी पड़ी। तेज आंधी से बिजली गुल हो गई।

दिन तपता रहा : अधिकतम तापमान 37 डिग्री रहा

रविवार को ‘रवि’ का तेवर तीखी ही रहा। सुबह में धूप निकली और दिन चढ़ने के साथ वह तीखी हो गई। दिन के 11 बजते-बजते धूप की चुभन ने बेहाल कर दिया। मौसम का मिजाज शुष्क हो गया। पारा चढ़ता गया। दिन के 2 बजे अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

अस्त-व्यस्त हुआ जनजीवन : शाम के बाद थमा शहर

कई लोग बारिश में फंसे : अचानक बदले मौसम ने लोगों को हैरान किया। शाम के बाद शहर अस्त-व्यस्त हो गया। संडे का आनंद लेने घरों से निकले लोग इस बारिश में फंस गए। इस बारिश का अनुमान किसी को था नहीं, इसलिए लोग इस बारिश में भीगने से स्वयं बचा नहीं सके।

सड़कों पर लगी जाम : आंधी-पानी से शहर व आसपास के कुछ इलाकों में क्षति की भी सूचना है। शहर के कुछ जगहों पर पेड़ गिरने के कारण यातायात बाधित हुई। इससे जाम की स्थिति बनी। शहर की कुछ सड़कों पर रात 9 बजे तक लोग जाम का सामना करते रहे।

शहर में ब्लैक आउट : आंधी-बारिश के बाद शहर की बिजली व्यवस्था ठप हो गई। सड़क से लेकर मुहल्ले तक अंधेरा छा गया। बिजली विभाग ने बताया कि तेज हवा के कारण कई जगहों पर फॉल्ट की सूचना है। रात 11 बजे तक विभाग बिजली सप्लाई शुरू नहीं कर पाया था।

आगे क्या : रविवार को हुई बारिश का असर सोमवार को दिख सकता है। मौसम विभाग के अनुसार आसमान में बादल आ सकते हैं। बारिश की स्थिति भी बन सकती है। धूप-छांव के कारण पारा लुढ़केगा। अधिकतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस गिरने का अनुमान है।

12 मिलीमीटर बारिश रांची में

50 किलोमीटर की स्पीड से चलीं हवाएं

जमशेदपुर में 105 किमी/घंटा की गति से चली हवा

26 मिमी बारिश, तापमान में 8 डिग्री की गिरावट