• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • आईएसएस अधिकारी भेजने पर ही सुधरेगी झमाडा की स्थिति : सीपी
--Advertisement--

आईएसएस अधिकारी भेजने पर ही सुधरेगी झमाडा की स्थिति : सीपी

झमाडा में जब तक किसी आईएएस अफसर को नहीं भेजा जाएगा, उसकी स्थिति नहीं सुधरेगी। आईएएस की पदस्थापना के बाद कर्मियों...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:10 AM IST
झमाडा में जब तक किसी आईएएस अफसर को नहीं भेजा जाएगा, उसकी स्थिति नहीं सुधरेगी। आईएएस की पदस्थापना के बाद कर्मियों की समस्याएं भी कम होंगी और उन्हें समय पर वेतन भी मिलने लगेगा। ये बातें बुधवार को नगर विकास एवं आवास मंत्री सीपी सिंह ने कहीं। वे बुधवार को रांची से देवघर जाने के क्रम में धनबाद के सर्किट हाउस में मीडिया से बातें कर रहे थे। मंत्री ने कहा कि झमाडा की आर्थिक स्थिति खराब है। राज्य में आईएएस अफसरों की कमी से भी इनकार नहीं है। इसके बावजूद झमाडा में किसी आईएएस को भेजने का प्रस्ताव सीएम को दिया है। अलग से अधिकारी नहीं मिले, तो धनबाद नगर निगम के आयुक्त को ही झमाडा का अतिरिक्त प्रभार दिया जा सकता है।

मंत्री सीपी सिंह ने यह भी कहा कि झमाडा के कर्मियों का समायोजन भी जरूरी है। हजारीबाग की तरह यहां भी नगर निगम में उनका समायोजन किया जाएगा। मौके पर मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल, डिप्टी मेयर एकलव्य सिंह, भाजपा के जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह, संजय झा भी मौजूद थे।



मेयर चंद्रशेखर, डिप्टी मेयर एकलव्य, नगर आयुक्त राजीव रंजन के साथ मंत्री सीपी सिंह।

मंत्री सीपी सिंह की साथ बैठक का बहिस्कार करनेवाले नगर निगम के पार्षद।

हर वार्ड में बनेगा पार्क | मंत्री ने कहा कि शहर के हर वार्ड में पार्क बनाए जाएंगे। पार्षदों से जमीन उपलब्ध कराने को कहा गया है। निगम में प्रोग्राम अफसर के मानदेय में भेदभाव के बारे में पूछे जाने पर कहा कि बहाली स्थानीय स्तर पर की गई है। ई-गवर्नेंस में हुए घोटाले की जांच निगरानी से कराने की अनुशंसा की गई है। सीएम की मंजूरी का इंतजार है। कंपनी को ब्लैक लिस्टेड किया जा चुका है।

मेयर ने की निगम का बजट बढ़ाने की मांग

मंत्री सीपी सिंह ने सर्किट हाउस में मेयर, डिप्टी मेयर, पार्षद और निगम के अधिकारियों के साथ बैठक की। मेयर ने उनसे निगम का बजट बढ़ाने की मांग की। उन्होंने कहा कि राज्य में धनबाद सबसे बड़ा निकाय है। यहां बजट बढ़ाने और एकमुश्त आवंटन की जरूरत है। अधिकारियों की कमी के कारण भी काम धीमा है। मेयर ने फ्लाईओवर बनवाने की मांग भी रखी, मंत्री ने प्रस्ताव भेजने को कहा। पार्षद अशोक पाल की मांग पर मंत्री ने बाबूडीह के विवाह मंडप में एसी लगाने का निर्देश दिया। पार्षद अंकेश राज ने भी बरमसिया-भूदा रोड को चौड़ा करने की मांग रखी। बैठक में पार्षद अंदिला देवी, सावित्री पासवान भी मौजूद थे।

55 में से 40 पार्षदों ने किया बहिष्कार

देर से मंत्री के आने और आवभगत में कमी का आरोप लगाते हुए ज्यादातर पार्षदों ने बैठक का बहिष्कार किया। 40 महिला-पुरुष पार्षद सर्किट हाउस से चले गए। उनका कहना था कि दोपहर एक बजे ही बैठक के लिए बुला लिया गया। झरिया, सिंदरी, कतरास से पार्षद सर्किट हाउस पहुंच गए। वे 3 बजे तक बैठे रहे, लेकिन न मंत्री पहुंचे और न ही इस बीच उन्हें चाय और पानी तक के लिए पूछा गया।