• Hindi News
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • असली जमीन मालिक को पता भी नहीं चला और फर्जी पावर ऑफ एटार्नी से बिक गई उनकी जमीन
--Advertisement--

असली जमीन मालिक को पता भी नहीं चला और फर्जी पावर ऑफ एटार्नी से बिक गई उनकी जमीन

Dhanbad News - डीबी स्टार

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:15 PM IST
असली जमीन मालिक को पता भी नहीं चला और फर्जी पावर ऑफ एटार्नी से बिक गई उनकी जमीन
डीबी स्टार
झारखंड में जमीन का रिकार्ड ऑनलाइन होने के बाद भी फर्जीवाड़ा हो रहा है। ऐसा ही मामला टाटीसिल्वे में सामने आया है। नामकुम अंचल के तहत आने वाले महुअप ठीपा के खाता नं.-238, प्लाॅट नं.-1094, रकबा साढ़े पैंतालीस डिसमिल जमीन रामगढ़ निवासी विपिन कुमार की है। लेकिन कुछ दलालों ने कर्मियों-अधिकारी से मिलकर विपिन की जानकारी के बिना ही जमीन बेच दी। इसके लिए विपिन का वर्तमान पता तुलीन, थाना- झालदा, जिला-पुरुलिया (पश्चिम बंगाल) दिखाकर फर्जी तरीके से पावर ऑफ एटार्नी बनाई और जमीन बेचकर रजिस्ट्री भी करा दी। फर्जीवाड़े की जानकारी विपिन को तब मिली, जब सामने वाली पार्टी ने जमीन के म्यूटेशन लिए नामकुम अंचल कार्यालय में आवेदन किया। विपिन ने टाटीसिल्वे थाना में 28.11.2017 को इसकी शिकायत दर्ज कराई।

इसमें विपिन ने कहा कि वे कभी तुलीन (झालदा) गए ही नहीं। इसके बाद भी रांची के धुर्वा निवासी मुकेश कुमार ने 15.3.2017 को जिला अवर निबंधक पुरुलिया में उनके नाम के फर्जी व्यक्ति को खड़ा करके पावर ऑफ एटार्नी ले लिया। इसी के सहारे जमीन बिक्री का खेल हुआ है। शिकायत के आधार पर जमीन के ओरिजनल मालिक का नाम और पता टाटीसिल्वे थाना नेे नामकुम सीओ को 7.12.2017 को पत्र लिखकर मांगा। 4.01.2018 को नामकुम सीओ ने थाना को जानकारी दी गई कि रजिस्टर-टू में जमीन मालिक का नाम विपिन कुमार, पिता-जगदीश महतो, जिला-रामगढ़ दर्ज है। विपिन के नाम से दाखिल-खारिज 19.9.2007 को हुआ है। सीओ की रिपोर्ट से स्पष्ट हो गया कि फर्जी मालिक खड़ा करके पावर ऑफ एटार्नी ली गई जमीन बिक्री का खेल हो गया।

DB STAR EXPOSE

टाटीसिल्वे थाना में हुई शिकायत, नामकुम सीओ की रिपोर्ट में असली मालिक विपिन ही हैं

1. शिकायत : विपिन कुमार को जब फर्जीवाड़े का पता चला तो उन्होंने टाटीसिल्वे थाने में ये कंप्लेन दर्ज की।

कई लोगों को जमीन बेचने का आरोप : टाटीसिल्वे थाने में की शिकायत में विपिन ने कहा कि फर्जी पावर ऑफ एटार्नी के सहारे बिहार की सिवान निवासी प्रतिमा देवी के नाम पर जमीन की रजिस्ट्री कर दी गई है। गवाह में अनगड़ा के सलीम खान और टाटीसिल्वे थाना क्षेत्र के सिलवे निवासी मनेश महतो का नाम दर्ज है। शिकायत पत्र में यह भी लिखा है कि फर्जी पावर ऑफ एटार्नी के आधार पर मुकेश कुमार और अन्य दलालों द्वारा कई व्यक्तियों की जमीन की रजिस्ट्री कराकर म्युटेशन के लिए अंचल कार्यालय, नामकुम में आवेदन दिया गया है। विपिन के अनुसार म्युटेशन के दौरान ही मुझे यह जानकारी मिली कि फर्जी तरीके से पावर लेकर जमीन दलाल उनकी जमीन बेच रहे हैं।

2. थाने ने मांगी जानकारी : विपिन की शिकायत पर टाटीसिल्वे थाना ने सीआे से जमीन की डिटेल मांगी।

कुर्मी के बदले कोईरी जाति बनाकर सीएनटी भूमि को बेची

विपिन का कहना है कि वे कुर्मी महतो जाति के हैं। हमारी जमीन सीएनटी में आती है। इसलिए पुरुलिया में पावर ऑफ एटार्नी लेने के दौरान कुर्मी महतो की जगह कोईरी जाति बताया गया है। प्रतिमा देवी के नाम पर जमीन रजिस्ट्री करने में एक गवाह मनेश महतो मुझे जानते हैं। मेरी जाति की भी जानकारी मनेश को है। इस मामले में यह सवाल भी उठा रहा है कि आखिर कुर्मी महतो की जमीन कोईरी बताकर कोई रजिस्ट्री कैसे करा सकता है? क्या रजिस्ट्री के पहले इसकी जांच नहीं हुई? कहीं इसमें रजिस्ट्री कार्यालय के कर्मचारी-अधिकारी की तो मिलीभगत नहीं है।

3. ये रही सीओ की रिपोर्ट : इसमें नामकुम के सीओ ने स्पष्ट किया कि जमीन का असली मालिक विपिन है।

इन्हें भी भेजी गई शिकायत की कॉपी : अवर निबंधन, रांची और पुरुलिया, अनुमंडल पदाधिकारी, सदर और उपायुक्त रांची, जिला दंडाधिकारी, पुरुलिया, सचिव, निबंधन विभाग झारखंड और पश्चिम बंगाल।

X
असली जमीन मालिक को पता भी नहीं चला और फर्जी पावर ऑफ एटार्नी से बिक गई उनकी जमीन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..