विज्ञापन

डीसी रेल लाइन / ट्रेन परिचालन का डेट बढ़ने से लोगों में उबाल

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2019, 10:37 AM IST


कतरासगढ़ में निरीक्षण करते डीआरएम। कतरासगढ़ में निरीक्षण करते डीआरएम।
X
कतरासगढ़ में निरीक्षण करते डीआरएम।कतरासगढ़ में निरीक्षण करते डीआरएम।
  • comment

  • कुछ सामान चोरी हो चुका है, अभी बहुत काम बाकी है; इसलिए परिचालन में समय लगेगा : डीआरएम
  • कहा-24 फरवरी से अगर डीसी लाइन में ट्रेनें नहीं चलीं, तो एक भी मालगाड़ी नहीं चलने देंगे

धनबाद. 15 फरवरी से ट्रेन परिचालन की उम्मीद लगाए बैठे कतरासवासी डेट बढ़ने से निराश हैं। डीआरएम अनिल कुमार मिश्रा द्वारा 15 की जगह 24 फरवरी से ट्रेन चलाने की घोषणा से कतरासवासियों में रोष दिखा। लोगों ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि ट्रेन चलाने की जगह रेलवे तारीख बढ़ा रही है। यह ठीक नहीं है। आखिर कब तक उन्हें ट्रेन की जगह तारीख मिलती रहेगी। क्या रेल प्रबंधन आचार संहिता लागू होने का इंतजार कर रहा है? लोगों ने कहा कि 24 फरवरी से यात्री ट्रेनें नहीं चली तो कतरासवासी 25 फरवरी के बाद मालगाड़ी भी नहीं चलने देंगे। मालगाड़ी भी रोक दी जाएगी। लोगों ने रेलवे से हर हाल में 24 फरवरी से परिचालन शुरू करने की मांग की है।

डीआरएम ने पूछा- मेरी ट्रेन 3 नंबर प्लेटफार्म पर क्यों आई?

  1. कतरासगढ़ स्टेशन पर डीआरएम की ट्रेन प्लेटफार्म नंबर 1 की जगह 3 पर रोकी गई। डीआरएम ने इसे लेकर स्टेशन मास्टर सहित अन्य अधिकारियों से पूछा कि उनकी ट्रेन 3 नंबर प्लेटफार्म पर रोकने का क्या मतलब है? रेल के अधिकारियों ने डीआरएम को बताया कि ओवरहेड तार अपडेट नहीं है। डीआरएम के साथ आए अधिकारियों ने मोबाइल में अपडेट दिखाया। डीआरएम ने जल्द से जल्द काम पूरा करने का निर्देश दिया।

  2. डीआरएम का हुआ स्वागत

    डीआरएम की ट्रेन जब कतरासगढ़ पहुंची तो कई लोग उनसे मिलने पहुंचे। बियाडा के पूर्व अध्यक्ष विजय कुमार झा ने डीआरएम मिश्रा का स्वागत किया। विजय झा ने कहने पर डीआरएम पैदल ही डायमंड क्रासिंग तक जाकर स्थिति का जायजा लिया। अधीनस्थ अधिकारियों को कई निर्देश दिए।

  3. 14 को अखंड की धुन पर झूमने की थी तैयारी

    15 से डीसी लाइन में यात्री ट्रेन चलने की खुशी में कतरासगढ़ स्टेशन परिसर स्थित शिव मंदिर प्रांगण में 14 फरवरी को अखंड की तैयारी की थी। इसके लिए भारतीय सेवा दल के सदस्यों ने कई हजार कार्ड छपवाकर बांट भी दिया था। साथ ही लंगर, आतिशबाजी कर और रंग अबीर लगाकर होली दिवाली एक साथ मनाने की तैयारी की गई थी। अब तिथि परिवर्तन कर 23 को अखंड का आयोजन किया जाएगा।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन