पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

पांच मिनट तक थाली, शंख और ताली बजाया; पीएम के अपील पर दिनभर घरों से नहीं निकले लोग, सड़कें रही सुनसान

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धनबाद के करकेंद में सड़क किनारे खड़े होकर लोगों ने बजायी ताली।
  • प्रशासन की जनता से अपील, रात नौ बजे के बाद भी जारी रहे जनता कर्फ्यू, न निकले लोग
  • दिन पर सड़कों पर नहीं दिखी गाड़ियां, जरुरी कामों के चलते कुछ लोग ही घरों से बाहर निकले लोग
Advertisement
Advertisement

धनबाद. जनता कर्फ्यू के दौरान शाम पांच बजते ही लोग घरों से बाहर निकले और शंख, ताली और थाली बजाकर कोरोना के खिलाफ अभियान में जुटे डॉक्टरों और नर्सों का आभार जताया। ताली-थाली और शंख बजने का सिलसिला पांच मिनट तक जारी रहा। इससे पहले प्रधानमंत्री की ओर से जनता कर्फ्यू की अपील को लोगों का समर्थन मिला। दिनभर सड़कें सूनी रही। कुछ लोग जरुरी काम के चलते सड़कों पर दिखे। उधर, प्रशासन की ओर से अपील की गई है कि रात नौ बजे के बाद भी लोग जनता कर्फ्यू को जारी रखें। 

बच्चे में दिखा ज्यादा उत्साह
ताली, थाली और शंखनाद के दौरान बच्चों में खासा उत्साह देखा गया। पांच बजने के बाद लोग अपने परिवार के साथ घर की छतों, बालकनी, दरवाजे के बाहर, सड़क के किनारे खड़े हो गए और पांच मिनट तक ताली, थाली व शंख बजाते दिखे। इस दौरान लोगों ने कहा कि शंख और थाली बजाने की परंपरा पुराने समय से चली आ रही है। मान्यता है कि थाली घर में खुशी के मौके पर जबकि शंख असुरी शक्तियों को भगाकर सकारात्मक शक्तियों का आह्वान किया जाता है। लोगों ने भरोसे से कहा कि भारत और यहां के लोग कोरोनावायरस को हराकर रहेंगे।

लोगों ने कहा- पीएम के जनता कर्फ्यू की अपील को समर्थन
धनबाद के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जनता कर्फ्यू के अपील को अपना समर्थन दिया। लोगों का कहना था कि मीडिया में वायरस की खबरों को देखने के बाद वे घरों में ही रहे। उन्होंने बताया कि स्कूल-कॉलेज पहले से ही बंद है। ऐसे में बच्चे भी घर पर ही थे। दिनभर उनका टाइम बच्चों के साथ गुजरा। कुछ ने बच्चों के साथ मस्ती की तो कुछ ने टीवी देखकर दिन गुजारा। 

दिनभर गश्ती करती रही पुलिस
जनता कर्फ्यू के दौरान पुलिस की पीसीआर वैन अगल-अलग इलाकों में नियमित पेट्रोलिंग करती रही। वहीं, जनता कर्फ्यू की अपील पर सड़कों पर एक भी वाहन नहीं दिखा। बस और ऑटो सड़क से गायब दिखे। कुछ लोग जो दूसरे जिलों या फिर राज्यों से रेलवे स्टेशन पहुंचे थे, वे पैदल ही सामान लेकर घरों की ओर रवाना हो गए। हालांकि कहीं-कहीं डेयरी व मेडिकल खुली रही। पांच बजने के बाद ताली, थाली और शंख बजाते हुए लोगों ने कहा कि ये उनके प्रति आभार है जो महामारी के दौरान जनता के लिए तत्पर हैं।


बैंकमोड, धनबाद रेलवे स्टेशन, स्टीलगेट, बरटांड बस स्टैंड, बिग बाजार के पास अक्सर लोगों की भीड़ रहती है। लेकिन जनता कर्फ्यू की अपील के बाद रविवार को इन स्थानों पर सन्नाटा पसरा रहा। हालांकि जनता कर्फ्यू की अपील के एक-दो दिन पहले से ही भीड़ कम होनी शुरू हो गई थी। कुछ लोग जो जरूरी काम से बाहर निकले तो वे एतिहातन मास्क लगाए हुए थे। 

होटल मालिकों को निर्देश जारी
स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोनावायरस से बचाव के लिए कई निर्देश जारी किए गए। निजी क्लिनिकों को निर्देश दिया गया कि वे सिर्फ इमरजेंसी केस ही देखेंगे। साथ ही प्रशासन की ओर से होटल मालिकों और संचालकों को निर्देश दिया गया है कि विदेश या अन्य राज्य से शहर में आए लोगों के बिना हेल्थ चेकअप के कमरा न उपलब्ध कराएं। साथ ही कार्मिक विभाग की ओर से सरकारी कर्मचारियों को रोटेशन कर ऑफिस आने का आदेश जारी किया गया।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप कई प्रकार की गतिविधियों में व्यस्त रहेंगे। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आ जाने से मन में राहत रहेगी। धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में महत्वपूर्ण...

और पढ़ें

Advertisement