धनबाद / 14 को मुख्यमंत्री करेंगे नेशनल ग्रिड का उद‌्‌घाटन, बिजली लेने की प्रक्रिया जेबीवीएनएल ने की पूरी

रघुवर दास। (फाइल फोटो) रघुवर दास। (फाइल फोटो)
X
रघुवर दास। (फाइल फोटो)रघुवर दास। (फाइल फोटो)

  • धनबाद में जारी बिजली संकट की आशंका काफी हद तक हो जाएगी कम

दैनिक भास्कर

Oct 11, 2019, 01:29 PM IST

धनबाद. 14 अक्टूबर से गोविंदपुर के कांड्रा स्थित जेबीवीएनएल के नेशनल ग्रिड से धनबाद को बिजली मिलने लगेगी। ग्रिड से पावर सप्लाई शुरू करने संबंधित प्रक्रिया जेबीवीएनएल की ओर से गुरुवार को पूरी कर ली गई है। दुमका से गोविंदपुर के बीच ट्रांसमिशन लाइन में कम्युनिकेशन सर्किट (एक से दूसरे सर्किट में संपर्क करने की टेलीफोन लाइन) निर्माण कार्य भी झारखंड ऊर्जा संचरण निगम लिमिटेड (जेयूएसएनएल) के अफसरों ने पूरा कर लिया है। किसी भी तरह की आपात स्थिति में कम्युनिकेशन सर्किट से संपर्क किया जा सकता है। 14 अक्टूबर को मुख्यमंत्री रघुवर दास ग्रिड का उद्घाटन करेंगे। इसके बाद धनबाद में जारी बिजली संकट की आशंका काफी हद तक कम हो जाएगी। 

 

नेशनल ग्रिड से धैया और हीरापुर सब स्टेशनों को मिलेगी बिजली 
गोविंदपुर के कांड्रा नेशनल ग्रिड से बिजली लेने के लिए जेबीवीएनएल पूरी तरह तैयार है। कांड्रा ग्रिड से धनबाद के बीच बिछाई गई 33 केवीए सप्लाई लाइन का मेंटेनेंस कार्य बिजली वितरण निगम के अफसरों ने पूरा कर लिया है। गोविंदपुर से गोल बिल्डिंग, हीरक रोड होते हुए धैया और हीरापुर सबस्टेशन तक कांड्रा नेशनल ग्रिड की बिजली पहुंचेगी। धैया से भूली और गोधर सबस्टेशन तक बिजली सप्लाई करने की व्यवस्था की गई है। 

 

अब नहीं होगा बिजली संकट 
वर्तमान में डीवीसी से धनबाद काे प्रतिदिन 270 मेगावाट बिजली मिल रही है। यहां 300 मेगावाट बिजली की जरूरत है। कांड्रा ग्रिड के निर्माण हाेने से 100 मेगावाट बिजली का अतिरिक्त विकल्प धनबाद के पास हाेगा। जेबीवीएनएल के एसई अजीत कुमार ने बताया कि गोविंदपुर के कांड्रा में बने नेशनल ग्रिड से बिजली लेने को जेबीवीएनएल पूरी तरह तैयार है। सबस्टेशन तक पावर लेकर सफल परीक्षण भी हो चुका है। सीएम के उद्घाटन के बाद धनबाद को ग्रिड से बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी।

 

DBApp

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना