धनबाद

--Advertisement--

पाकुड़: हाईटेंशन वायर की चपेट में आने से यात्रियों से भरी बस में लगी आग, एक की मौत

कृष्णा रजत नामक बस पाकुड़ से दुमका जा रही थी। इसी दौरान यह हादसा हुआ। बस के ऊपर ढेर सारी साइकिल लदी हुई थी।

Danik Bhaskar

Jul 14, 2018, 06:44 PM IST
हाईटेंशन वायर की चपेट में आने से बस में आग लग गई। (फाइल) हाईटेंशन वायर की चपेट में आने से बस में आग लग गई। (फाइल)

पाकुड़(झारखंड)। अमड़ापाड़ा थाना क्षेत्र के पोखरिया रोड स्थित मोहनलेद के पास हाई वोल्टेज तार की चपेट में आने से एक यात्री बस में अाग लग गई। बस में करंट दौड़ने से उसमें सवार तीन लोग घायल हो गए। जबकि, बस कंडक्टर की मौके पर ही मौत हो गई। दरअसल, बस में लगी आग के बाद अफरातफरी मच गई। बस कंडक्टर नीचे गिरा, जिसे लोग रौंदते हुए भागने लगे। इस घटना में कंडक्टर की मौके पर ही मौत हो गई।

बस के ऊपर लोड साइकिल तार से गई टच
पाकुड़ से दुमका आ रही कृष्णा रजत बस में 50 से ज्यादा यात्री सवार थे। वहीं, अमड़ापाड़ा में स्थानीय हाट होने के कारण बस पर छोटे व्यापारियों ने लोहे का सामान व साइकिल बस की छत पर लोड कर दिया। मोहनलेद के पास बने स्पीड ब्रेकर के कारण ड्राइवर ने बस को सड़क के किनारे से पार करना चाहा। इसी बीच बस की छत पर लोड साइकिल ऊपर झूल रहे 11 हजार हाई वोल्टेज बिजली तार से टच कर गई, जिससे पूरे बस में करंट दौड़ गया। करंट दौड़ते ही बस में अफरातफरी मच गई। वहीं, शॉर्ट सर्किट होने से बस में आग लग गई।

करंट के झटके से तीन हुए जख्मी
आग लगते ही बस से यात्री कूदकर अपनी जान बचाने लगे। कूदने के दौरान तीन यात्री घायल हो गए, जबकि बस कंडक्टर की मौत मौके पर ही हो गई। पाकुड़ एसपी शैलेंद्र प्रसाद वर्णवाल ने कहा कि वाहन मालिक अाैर बिजली विभाग के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवार्इ की जाएगी। बस में करंट दौड़ने के साथ ही शॉर्ट-सर्किट के कारण बिजली चली गई, जिससे लोगों को करंट का केवल झटका लगा। इस अफरातफरी में बस की गेट पर खड़े कंडक्टर निमाय दे (54) गिर पड़े और बदहवास लोग जान बचाने की नीयत से उन्हें रौंदते हुए भागने लगे, जिससे निमाय दे की मौके पर ही मौत हो गई। निमाय दे दुमका के जरमुंडी के रहने वाले थे। एक वर्ष पूर्व ही उनके पुत्र की मौत बस दुर्घटना में हो गई थी। वहीं, राजापाड़ा निवासी निलुस मरांडी, गायबथान के लीलमुनी मरांडी समेत एक अन्य व्यक्ति करंट लगने से घायल हो गए, जिनका प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, अमड़ापाड़ा में इलाज किया गया।

फोटो: संताेष कुमार।

बस में करीब 50 लोग सवार थे। बस में करीब 50 लोग सवार थे।
Click to listen..