हैकफेस्ट / कैंपस में गाड़ी घुसते ही खुद-ब-खुद दर्ज हो जाएगी इंट्री



हैकफेस्ट का उद्‌घाटन करते निदेशक राजीव शेखर। हैकफेस्ट का उद्‌घाटन करते निदेशक राजीव शेखर।
X
हैकफेस्ट का उद्‌घाटन करते निदेशक राजीव शेखर।हैकफेस्ट का उद्‌घाटन करते निदेशक राजीव शेखर।

  • सुरक्षा के लिए खास इस आइडिया पर काम कर रही 5 स्टूडेंट की टीम
  • रात 10 बजे तक गाड़ी कैंपस से बाहर न निकली, तो भेजेगा नोटिफिकेशन

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 12:16 PM IST

धनबाद. बाइक हो या चार पहिए का वाहन, किसी गाड़ी को गेट पर रोक कर सिक्युरिटी गार्ड के पास इंट्री नहीं करानी होगी। गेट पर लगा कैमरा ही गाड़ी के नंबर प्लेट के जरिए उसकी पहचान कर लेगा और गाड़ी संख्या के साथ उसके मालिक के नाम को कंप्यूटर में दर्ज कर देगा। साथ ही, एक बार कैंपस में आई गाड़ी अगर रात 10 बजे तक बाहर नहीं जाती है, तो इसकी जानकारी कंप्यूटर से सुरक्षा अधिकारियों को खुद-ब-खुद मिल जाएगी। यह सब होगा एक खास एप जरिए, जिसे बनाने में आईआईटी आईएसएम धनबाद के स्टूडेंट की एक टीम जुट गई है। अंकुर सारण, पारस सिक्का, शिवम सिंगला, प्रशांत कुमार और रेय अपूर्वनाथ की टीम इस एप पर आईआईटी में आयोजित कार्यक्रम हैकफेस्ट में काम कर रही है। ऐसी ही 45 टीमें अलग-अलग तकनीक और आइडिया पर काम कर रही हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना