--Advertisement--

झारखंड / कृषि मंत्री रणधीर सिंह से गाली-गलौज, धक्का देकर मंच से उतारा



लोगों के भारी विरोध के बीच सुरक्षा कर्मी मंत्री (पीली शर्ट में) को अपने सुरक्षा घेरे में लेकर स्टेज से उतरते हुए। लोगों के भारी विरोध के बीच सुरक्षा कर्मी मंत्री (पीली शर्ट में) को अपने सुरक्षा घेरे में लेकर स्टेज से उतरते हुए।
X
लोगों के भारी विरोध के बीच सुरक्षा कर्मी मंत्री (पीली शर्ट में) को अपने सुरक्षा घेरे में लेकर स्टेज से उतरते हुए।लोगों के भारी विरोध के बीच सुरक्षा कर्मी मंत्री (पीली शर्ट में) को अपने सुरक्षा घेरे में लेकर स्टेज से उतरते हुए।

  • सारठ में काली पूजा के कार्यक्रम में स्टेज पर चढ़ने से भड़के लोग
  • मंत्री को नीचे उतारने के लिए पत्थर, गोबर और राख फेंके

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 04:26 AM IST

सारठ (देवघर). कृषि मंत्री रणधीर सिंह को अपने ही विधानसभा क्षेत्र सारठ के पारबाद गांव में काली पूजा के सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान भारी विरोध झेलना पड़ा। लोगों ने उनसे गाली-गलौज की। धक्का-मुक्की की। मंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पत्थर, गोबर और राख फेंके। हालात इतने बिगड़ गए कि लोगों ने मंत्री को धक्का देकर मंच से उतार दिया। इससे काफी देर तक वहां अफरा-तफरी की स्थिति बन गई।


मंत्री रणधीर सिंह हर साल यहां काली पूजा में आते हैं। मंगलवार रात करीब 12 बजे रणधीर सिंह अपने काफिले के साथ कार्यक्रम में पहुंचे। काली मंदिर में मत्था टेका और सीधे स्टेज पर पहुंच गए। उस समय पूर्व विधायक चुन्ना सिंह भी स्टेज के पीछे बने टेंट में आयोजन समिति के सदस्यों के साथ मौजूद थे। मंत्री के स्टेज पर चढ़ते ही चुन्ना सिंह नीचे उतर गए, तभी कुछ लोगों ने मंत्री के स्टेज पर चढ़ने का विरोध किया।

 

कई लोग स्टेज पर चढ़ गए। मंत्री ने जब माइक से विरोध कर रहे लोगों को स्टेज से उतारने और कार्यक्रम जारी रखने को कहा तो गाली-गलौज और धक्का-मुक्की शुरू हो गई। भीड़ ने स्टेज पर पत्थर, गोबर और राख फेंकना शुरू कर दिया। मंत्री ने विरोध कर रहे लोगों को समझाने का काफी प्रयास किया, लेकिन लोग उन्हें स्टेज से उतारने पर अड़े रहे। लोगों का कहना था कि मंत्री ने गलत भाषा का प्रयोग किया था, जिससे लोगों का गुस्सा भड़क गया। मंत्री के जाने के बाद कार्यक्रम फिर शुरू हुआ।

 

मंत्री बोले-नहीं हुई धक्का-मुक्की, शराब के नशे में स्टेज के नीचे कुछ लोग उपद्रव कर रहे थे : कृषि मंत्री रणधीर सिंह ने कहा कि स्टेज पर मेरे साथ कोई धक्का-मुक्की नहीं हुई। कुछ शरारती तत्व शराब के नशे में वहां आ गए थे। कुछ लोगों के बहकावे में स्टेज के नीचे से उन्होंने शोर गुल करना शुरू कर दिया। मैंने अपने समर्थकों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया, ताकि माहौल नहीं बिगड़े। शरारती तत्व वहां बाधा डालने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन मैंने धैर्य का परिचय दिया। मंत्री के साथ धक्का-मुक्की या गाली-गलौज हुई होती, तो मैं एफआईआर दर्ज नहीं कराता क्या? समिति के लोग मुझसे मंच पर ही रहने का आग्रह करते रहे, लेकिन मैं नीचे उतर आया। मंत्री ने कहा कि बाद में यह बात फैला दी गई कि मंत्री के साथ धक्का-मुक्की हुई है, जो पूरी तरह गलत है।

 

मंत्री-पूर्व विधायक के समर्थकों में भी हाथापाई : इससे पहले मंत्री रणधीर सिंह और पूर्व विधायक चुन्ना सिंह के समर्थकों के बीच भी हाथापाई और गाली-गलौज हुआ। घटना की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी नवीन कुमार सिंह और अन्य अधिकारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। थाना प्रभारी ने बताया कि पारबाद में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम की सूचना पुलिस को नहीं दी गई थी। उधर, करीब एक घंटे बाद मंत्री फिर कार्यक्रम में लौटे। वहां एक घंटे तक रहे। हालांकि इस बार वे स्टेज पर नहीं गए, बल्कि नीचे बैठकर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आनंद लिया।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..