धनबाद

  • Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • सरकारी ब्लड बैंकों से अब मरीजों को फ्री में मिलेगा खून
--Advertisement--

सरकारी ब्लड बैंकों से अब मरीजों को फ्री में मिलेगा खून

सरकारी ब्लड बैंकों से अब मरीजों को फ्री में मिलेगा खून पॉलिटिकल रिपोर्टर | रांची राज्य के सरकारी ब्लड...

Danik Bhaskar

Jul 10, 2018, 02:25 AM IST
सरकारी ब्लड बैंकों से अब मरीजों को फ्री में मिलेगा खून

पॉलिटिकल रिपोर्टर | रांची

राज्य के सरकारी ब्लड बैंकों से अब खून मुफ्त मिलेगा। यहां से ब्लड लेने के लिए अब प्रोसेसिंग फीस नहीं देनी होगी। राज्य सरकार ने रक्तदान के एवज में मिलने वाले ब्लड यूनिट पर प्रोसेसिंग शुल्क को खत्म कर दिया गया है। इससे संबंधित आदेश सोमवार को नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) के अभियान निदेशक कृपा नंद झा की ओर से जारी किया गया है। इस आदेश के बाद अब मरीजों को सरकारी ब्लड बैंकों से ब्लड निशुल्क मिलेगा। पहले मरीजों को ब्लड एक्सचेंज के बाद प्रोसेसिंग फीस के नाम पर 350 रुपए देने पड़ते थे। इस राशि का भुगतान अब राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के बजट से अस्पतालों को किया जाएगा। सरकारी हॉस्पिटल में एडमिट होने वाले मरीजों को भी इसका लाभ मिलेगा।

रक्तदान के बाद भी 350 रुपए प्रोसेसिंग फीस चुकाने के बाद ही मिलता था ब्लड, सरकार ने खत्म किया शुल्क

राशि का भुगतान अब राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के बजट से अस्पतालों को होगा

ब्लड बैंकों में ऐसे मिलता खून

सरकारी अस्पतालों के मरीजों को रक्त चढ़ाने की जरूरत होने पर ब्लड मंगाया जाता है। इसके लिए मरीजों के परिजन रक्तदाता (डोनर) लेकर जाते थे। रक्तदान करने के बाद प्रोसेसिंग शुल्क का भुगतान करना पड़ता था, तभी मरीज को ब्लड मिलता है। रक्तदान जागरूकता की मुहिम चलाने वाली संस्थाएं कई बार नेशनल एड्स कंट्रोल आर्गेनाइजेशन (नाको) से सरकारी अस्पतालों के ब्लड बैंक में प्रोसेसिंग फीस न लेने की मांग उठा चुकी थीं। इस पर नाको ने केंद्र सरकार को प्रोसेसिंग शुल्क का भुगतान एनएचएम के बजट से करने का प्रस्ताव दिया था। इस पर केंद्र सरकार ने सहमति दे दी है। अब एनएचएम सरकारी अस्पतालों के ब्लड में खपत हुई ब्लड यूनिट के हिसाब से प्रोसेसिंग शुल्क का बजट उपलब्ध कराएगा।

सरकारी ब्लड बैंकों को नाको से मदद

सरकारी अस्पतालों के ब्लड बैंक को नेशनल एड्स कंट्रोल सोसाइटी (नाको) से मदद मिलती है। नाको ब्लड बैग, टेस्ट किट एवं रक्तदाताओं को रक्तदान के उपरांत जलपान के लिए भी बजट मुहैया कराता है।

इन्हें मिलता था मुफ्त ब्लड

सरकारी ब्लड बैंकों से अभी तक सिर्फ बीपीएल कार्डधारक, थैलीसीमिया, हीमोफीलिया, एचआईवी, गर्भवती, कैदी, लावारिस मरीजों को मुफ्त ब्लड उपलब्ध कराया जाता है। इसके लिए अस्पताल के अधिकारियों को ही प्रोसेसिंग शुल्क माफ करने का अधिकार है, फार्म पर इनकी संस्तुति जरूरी है।

यहां मिलेगा मुफ्त खून

रिम्स रांची, एमजीएम जमशेदपुर, पीएमसीएच धनबाद के अलावा सदर अस्पताल गिरिडीह, चतरा, हजारीबाग, कोडरमा, पश्चिम सिंहभूम, गुमला, लोहरदगा, सिमडेगा, दुमका, साहेबगंज, देवघर, पलामू, गढ़वा, लातेहार और पाकुड़। ये सभी ब्लड बैंक नाको के सहयोग से चल रहे हैं।

Click to listen..