• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • विविधताओं में एकता की खोज करता है हमारा राष्ट्र : मिलिंद

विविधताओं में एकता की खोज करता है हमारा राष्ट्र : मिलिंद / विविधताओं में एकता की खोज करता है हमारा राष्ट्र : मिलिंद

Dhanbad News - विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के प्रांतीय प्रशिक्षण शिविर के पांचवें दिन बुधवार को कार्यक्रम की शुरुआत हनुमान...

May 24, 2018, 02:25 AM IST
विविधताओं में एकता की खोज करता है हमारा राष्ट्र : मिलिंद
विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के प्रांतीय प्रशिक्षण शिविर के पांचवें दिन बुधवार को कार्यक्रम की शुरुआत हनुमान चालीसा के पाठ के साथ हुई। इसके बाद योगाभ्यास का सत्र हुआ। मिश्रदंड, बैठक, ताड़ासन, वृक्षासन, सूर्य नमस्कार, प्राणायाम के विभिन्न आयाम, मस्त्रिका, कामनाभौति, उज्जाई, भ्रामरी, उदगीत आदि की जानकारी दी गई। पहले सत्र में अंतरराष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने हिन्दू राष्ट्र की संकल्पना की चर्चा करते हुए कहा कि यह राष्ट्र विविधताओं में एकता की खोज करता है। जाति, धर्म, भाषा के आधार पर हम अलग-अलग प्रतीत होते हैं, पर हमारा मूल चिंतन एकात्मता पर आधारित है। त्याग और मितव्यमि व्यवहार पर आधारित है।

विजय पांडेय ने हिन्दू संस्कृति के संचार शीर्षक पर व्याख्यान दिया। इसमे उन्होंने कहा कि आज 100 देश हिन्दू संस्कृति को मानते हैं। अमेरिका के प्लेन का नाम गरुड़ है। आज भी वहां के कांग्रेस (संसद) में वेद ध्वनि के साथ सत्रारंभ होता है। भारतीय संस्कृति को पाश्चात्य देश के लोग भी अहमियत देने लगे हैं। शिविर में रतन लाल अग्रवाल, दीपक ठाकुर, केशव राजू, पंकज तिवारी, विकास बजरंगी, विक्की सिंह, चंदन चक्रवर्ती, रमेश पांडेय, बलदेव पांडेय, पप्पू यादव, सोनी शर्मा, लल्लू झा, राजीव रोशन, मिथलेश कुमार, सतीश गुप्ता, पंकज कुमार, अमित पासवान आदि ने भी शिरकत की।

अखिल भारतीय हिन्दू सम्मेलन 2 जून से गोवा में

धनबाद | हिन्दू राष्ट्र की स्थापना के लिए 2 से 12 जून तक गोवा के कालावधी में अखिल भारतीय हिन्दू अधिवेशन का आयोजन किया जाएगा। इसका उद्देश्य राष्ट्रव्यापी हिन्दू संगठनों को मजबूत करना है। अधिवेशन में भारत के 19 राज्यों के प्रतिनिधियों के अलावा नेपाल, बांग्लादेश और श्रीलंका के 150 से ज्यादा हिन्दू संगठन शामिल होंगे। ये बातें हिन्दू जनजागृति समिति के पूर्वोत्तर तथा पूर्व भारत समन्वयक चितरंजन सुराल ने बुधवार को एलसी रोड स्थित एक होटल में मीडिया से कहीं। उन्होंने कहा कि अधिवेशन का मुख्य एजेंडा हिन्दुओं की सुरक्षा, मंदिरों की रक्षा, संस्कृति, संगठन की रक्षा, हिन्दू राष्ट्र की स्थापना, लव-जिहाद, कश्मीरी हिन्दुओं का पुनर्वास आदि होंगे। इसके साथ पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल और श्रीलंका में रहनेवाले हिन्दुओं की रक्षा और उनकी सहायता के लिए विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा होगी। मौके पर सनातन संस्था के राज्य समन्वयक प्रदीप खेमका, तरुण हिन्दू के संस्थापक डॉ नील माधव दास भी मौजूद थे।

एलसी रोड में मीडिया से बातचीत करते हिन्दू जनजागृति समिति के सदस्य।

सिटी रिपोर्टर | धनबाद

विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के प्रांतीय प्रशिक्षण शिविर के पांचवें दिन बुधवार को कार्यक्रम की शुरुआत हनुमान चालीसा के पाठ के साथ हुई। इसके बाद योगाभ्यास का सत्र हुआ। मिश्रदंड, बैठक, ताड़ासन, वृक्षासन, सूर्य नमस्कार, प्राणायाम के विभिन्न आयाम, मस्त्रिका, कामनाभौति, उज्जाई, भ्रामरी, उदगीत आदि की जानकारी दी गई। पहले सत्र में अंतरराष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने हिन्दू राष्ट्र की संकल्पना की चर्चा करते हुए कहा कि यह राष्ट्र विविधताओं में एकता की खोज करता है। जाति, धर्म, भाषा के आधार पर हम अलग-अलग प्रतीत होते हैं, पर हमारा मूल चिंतन एकात्मता पर आधारित है। त्याग और मितव्यमि व्यवहार पर आधारित है।

विजय पांडेय ने हिन्दू संस्कृति के संचार शीर्षक पर व्याख्यान दिया। इसमे उन्होंने कहा कि आज 100 देश हिन्दू संस्कृति को मानते हैं। अमेरिका के प्लेन का नाम गरुड़ है। आज भी वहां के कांग्रेस (संसद) में वेद ध्वनि के साथ सत्रारंभ होता है। भारतीय संस्कृति को पाश्चात्य देश के लोग भी अहमियत देने लगे हैं। शिविर में रतन लाल अग्रवाल, दीपक ठाकुर, केशव राजू, पंकज तिवारी, विकास बजरंगी, विक्की सिंह, चंदन चक्रवर्ती, रमेश पांडेय, बलदेव पांडेय, पप्पू यादव, सोनी शर्मा, लल्लू झा, राजीव रोशन, मिथलेश कुमार, सतीश गुप्ता, पंकज कुमार, अमित पासवान आदि ने भी शिरकत की।

X
विविधताओं में एकता की खोज करता है हमारा राष्ट्र : मिलिंद

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना