• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • 10 दिनों तक मीटर में कोई मूवमेंट नहीं और 11वें दिन रीडिंग में सीधे 200 यूनिट का हो रहा उछाल
--Advertisement--

10 दिनों तक मीटर में कोई मूवमेंट नहीं और 11वें दिन रीडिंग में सीधे 200 यूनिट का हो रहा उछाल

अचानक से आपके घर का बिजली बिल कहीं ज्यादा तो नहीं आ रहा है। ऐसा तो नहीं की अचानक से आपके घर में लगा मीटर तेज तो नहीं...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 02:25 AM IST
अचानक से आपके घर का बिजली बिल कहीं ज्यादा तो नहीं आ रहा है। ऐसा तो नहीं की अचानक से आपके घर में लगा मीटर तेज तो नहीं भागने लगा है। तो यह खबर आपके लिए है। बिजली के मीटर से संबंधित अजीबो-गरीब खराबी की शिकायतें जेबीवीएनएल के दफ्तरों में दर्ज होने लगी है। बिजली वितरण निगम के अलग-अलग दफ्तरों में कई शिकायतें, मीटर में गड़बड़ी की दर्ज हो चुकी है। उपभोक्ताओं की समस्या का समाधान करने के बजाए, अफसर मीटर में खराबी आने की बात मानने को तैयार नहीं है। उपभोक्ताओं की माने तो उनका घरों, प्रतिष्ठानों में लगा बिजली का मीटर चलते-चलते अचानक से रुक जा रहा है। 10 से 15 दिनों तक मीटर में किसी तरह की मूवमेंट नहीं हो रही है। वही 16वें दिन अचानक से मीटर में करीब 200 यूनिट तक का उछाल दर्ज किया जा रहा है। काफी दिनों से यह सिलसिला जारी है। कुछ महीनों से बिजली बिल में अचानक से इजाफा होने के बाद उपभोक्ताओं ने मीटर रीडिंग पर ध्यान रखना शुरू किया। तब जाकर मीटर में अजीबो-गरीब गड़बड़ी की बात सामने आई है।

केस स्टडी वन : हंस विहार कॉलोनी निवासी सरोज देवी ने हीरापुर स्थित बिजली सब डिवीजन कार्यालय में मीटर में इसी तरह की खराबी आने की शिकायत दर्ज कराई है। उनके मुताबिक उनका मीटर अचानक से रुक जाता है। 20 से 25 दिनों तक मीटर कर रीडिंग भी नहीं बढ़ता है। वही 21वें और 26वें दिन मीटर में 200 यूनिट तक का उछाल हो रहा है। दो महीने मीटर की मोनेटरिंग के बाद उन्होंने इसकी शिकायत बिजली विभाग में की है।

केस स्टडी टू : प्रोफेसर कॉलोनी निवासी देवनाथ दत्ता भी इसी समस्या से परेशान है। देवनाथ के मुताबिक मीटर चलते-चलते अचानक रुक जाता है। कभी-कभी 10 से 15 दिनों तक मीटर रुक जाता है। फिर अचानक से 11वें अथवा 16वें दिन मीटर अपने आप चलने लगता है। हालांकि मीटर रीडिंग यूनिट पूरी तरह बदल जाती है। उन्होंने अपने मीटर में लगभग 100 यूनिट का उछाल होने की शिकायत दर्ज कराई है।

150 से 200 यूनिट तक को हो रहा उछाल

मीटर में अचानक से यूनिट के अंक में हो रही उछाल से संबंधित गड़बड़ी के कई मामले अब तक सामने आ चुके है। ज्यादातर उपभोक्ताओं के मीटर में 150 से 200 यूनिट तक का उछाल दर्ज किया जा रहा है। मीटर चलते-चलते अचानक बंद हो जाता है। मीटर की सारी मूवमेंट रुक जाती है। किसी उपभोक्ता के यहां 10 दिन तो कही 15 दिनों तक मीटर मानो पूरी तरह डेड हो जाता है। वहीं अचानक से कही 11वें तो कही 16वें दिन मीटर चलने लगता है। लेकिन मीटर का यूनिट अंक बदल जाता है। अब तक उपभोक्ताओं द्वारा करीब 150 से 200 यूनिट तक का उछाल दर्ज किया गया है।

सरकारी मीटर में गड़बड़ी की शिकायतें ज्यादा : मीटर में अचानक से बंद और फिर शुरू होकर होने वाले उछाल की शिकायतें सबसे ज्यादा उन उपभोक्ताओं ने दर्ज कराई है। जिन्होंने बिजली वितरण निगम से मीटर लिया है। यह मीटर ऊर्जा मुख्यालय द्वारा अलग-अलग एरिया बोर्ड को मुहैया कराई गई है। मीटर के बदले बिजली वितरण निगम किस्त में उपभोक्ताओं से पैसे वसूलती है। मीटर खरीदने के दौरान एक बार पैसे का भुगतान करने की वजह से ज्यादातर उपभोक्ता बोर्ड का ही मीटर लेना ज्यादा पसंद करते है।