Hindi News »Jharkhand »Dhanbad» 2 फ्लाइओवर जरूरी, सिंदरी और बलियापुर बने इंडस्ट्रीयल एरिया

2 फ्लाइओवर जरूरी, सिंदरी और बलियापुर बने इंडस्ट्रीयल एरिया

शहर का जोनल मास्टर प्लान तैयार कर लिया गया है। कंपनी डीडीएफ ने नगर निगम को प्लान सौंप दिया है। निगम के अधिकारी उसका...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 09, 2018, 02:30 AM IST

2 फ्लाइओवर जरूरी, सिंदरी और बलियापुर बने इंडस्ट्रीयल एरिया
शहर का जोनल मास्टर प्लान तैयार कर लिया गया है। कंपनी डीडीएफ ने नगर निगम को प्लान सौंप दिया है। निगम के अधिकारी उसका अध्ययन कर रहे हैं। जोनल प्लान शहरी क्षेत्र को छह जोनों में बांट कर तैयार किया गया है। ए, बी, सी, डी के नाम से इलाके के विकास का ब्लू प्रिंट तैयार किया गया है। जोनल प्लान में शहरी क्षेत्र में लगने वाले सड़क जाम से निपटने के लिए दो फ्लाईओवर बनाने का सुझाव दिया गया है। शहर में फ्लाईओवर की बात काफी अरसे से चल रही है। नगर निगम बोर्ड की बैठक में भी शहर के गया पुल और मटकुरिया चेक पोस्ट के पास फ्लाईओवर निर्माण का प्रस्ताव पारित किया जा चुका है। जोनल मास्टर प्लान में स्पष्ट कहा गया है कि बैंकमोड़ से लेकर गया पुल होते हुए रांगाटाड़़ तक सड़क का विस्तार करने का बहुत स्कोप नहीं है। अधिक-से-अधिक सड़क की फोर लेन का किया जा सकता है, जो पर्याप्त नहीं है। सड़क जाम की समस्या के समाधान के लिए गया पुल पर एक फ्लाईओवर का निर्माण जरूरी है।

बैंकमोड़ जोन ए में शामिल

डीडीएफ कंपनी ने जोनल प्लान में हर इलाके को अलग- अलग जोन में बांट कर प्लान तैयार किया है। शहर के बैंकमोड़, पुराना बाजार, मटकुरिया, बरटांड़, रांगाटाड़़ और आस पास के इलाके को जोन ए में शामिल किया है। जोन ए में कितने आवास है और इसकी जनसंख्या कितनी है। जलापूर्ति का स्त्रोत क्या है। 30-40 साल बाद कितनी आबादी होगी और इतनी बड़ी आबादी के लिए क्या-क्या सुविधा चाहिए। प्लान में इसे विस्तार से बताया गया है। जोन ए की तरह झरिया क्षेत्र को जोन बी और केंदुआ-करकेंद और पुटकी इलाके को जोन सी और कतरास को जोन डी में रखा गया है। सिंदरी और बलियापुर क्षेत्र को जोन ई और एफ में शामिल किया गया है। दोनों क्षेत्र को औद्योगिक क्षेत्र के रूप में विकसित करने का सुझाव दिया गया है। प्लान में बताया गया है कि सिंदरी में खाद कारखाना खुलना है। कारखाने के खुलने से उस इलाके में औद्योगिक माहौल बनेगा। मेन मास्टर प्लान में बलियापुर क्षेत्र को भविष्य का शहर बताया गया है।

स्टेक होल्डर्स मीटिंग मे होगी चर्चा :जोनल मास्टर प्लान में क्या कमी है, प्लान में लोगों को किस तरह की सुविधा उपलब्ध कराने का सुझाव दिया गया है, इस पर विस्तार से चर्चा स्टेक होल्डर्स मीटिंग में की जाएगी। 12 जुलाई को स्टेक होल्डर्स मीटिंग प्रस्तावित है। इसमें डीडीएफ के अधिकारी पूरे जोनल प्लान पर विस्तार से जानकारी देंगे। लोगों के सुझाव के बाद फिर फाइनल मास्टर प्लान तैयार किया जाएगा।

जोनल मास्टर प्लान डीडीएफ कंपनी ने तैयार कर लिया है और निगम को सौंप दिया है। उसका अध्ययन किया जा रहा है। इसमें फ्लाईओवर समेत कई सुझाव दिए गए हैं। उन पर स्टेक होल्डर्स की मीटिंग में चर्चा की जाएगी। उसके बाद लोगों से मिले सुझाव के आधार पर फाइनल मास्टर प्लान तैयार किया जाएगा।’’ - चंद्रशेखर अग्रवाल, मेयर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhanbad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×