Hindi News »Jharkhand »Dhanbad» एमआर का टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित: सीएस

एमआर का टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित: सीएस

26 जुलाई से शुरू होने वाले मीजल्स, रुबेला टीकाकरण अभियान की सफलता को लेकर गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग के नेतृत्व में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 02:55 AM IST

एमआर का टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित: सीएस
26 जुलाई से शुरू होने वाले मीजल्स, रुबेला टीकाकरण अभियान की सफलता को लेकर गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग के नेतृत्व में एनसीसी के साथ उन्मुखीकरण पर आधारित कार्यक्रम का आयोजन रणधीर प्रसाद वर्मा स्टेडियम में किया गया। कार्यक्रम में एनसीसी के सूबेदार मेजर, कैडेट्स, स्वास्थ्य विभाग के सिविल सर्जन, एसीएमओ, यूनिसेफ एवं डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि, जिला जन संपर्क पदाधिकारी आदि शामिल हुए। कार्यक्रम के दौरान सीएस आशा लकड़ा ने एनसीसी कैडेट्स को मीजल्स रुबेला (एमआर) टीकाकरण के संबंध में जानकारी दी। टीके के फायदे के बारे में एनसीसी केडेट्स को बताया। उन्होंने कहा कि एमआर टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित है। 9 माह से 15 साल तक के बच्चों को टीका दिया जाता है। यह टीका बच्चों को मीजल्स एवं रुबेला जैसी बीमारियों से बचाता है। बताया कि एमआर टीकाकरण अभियान 26 जुलाई से शुरू होगा। पांच सप्ताह तक अभियान चलेगा। अभियान के प्रथम 2 सप्ताह स्कूली बच्चों को टीका लगाया जाएगा। अगले 2 सप्ताह आंगनबाड़ी के बच्चों को तथा अभियान के पांचवे सप्ताह में छूटे हुए बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा।

कार्यक्रम में मौजूद एनसीसी केडेट्स।

खसरा-रुबेला का टीका सभी सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों पर मुफ्त लगाया गया : डॉ संजीव कुमारी

जिला आरसीएच पदाधिकारी डॉ संजीव कुमार ने कहा कि एमआर टीका पूरी तरह सुरक्षित है। जिन बच्चों का टीकाकरण पहले हो चुका है, वो भी टीका लगवा सकते है। खसरा और रुबेला से जुड़े जानलेवा बीमारी निमोनिया, दस्त, दिमागी बुखार से बचाव के लिए टीकाकरण ही एकमात्र बचाव है। उन्होंने बताया कि खसरा-रुबेला का टीका सभी सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों पर मुफ्त लगाया जाता है। टीकाकरण से संबंधित शंकाओं को दूर करने के लिए जिले के स्कूलों में पेरेंट्स, टीचर्स मिट का आयोजन भी किए जा रहे है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhanbad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×