• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • भ्रष्टाचार कम करने में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सक्षम
--Advertisement--

भ्रष्टाचार कम करने में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सक्षम

धनबाद | दी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियर्स, धनबाद चैप्टर की ओर से गुरुवार को राजकीय पॉलिटेक्निक, धनबाद में वर्ल्ड...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:00 AM IST
धनबाद | दी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियर्स, धनबाद चैप्टर की ओर से गुरुवार को राजकीय पॉलिटेक्निक, धनबाद में वर्ल्ड टेलिकम्युनिकेशन एंड इंफॉरमेशन सोसाइटी डे मनाया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन प्राचार्य बिनोद प्रसाद सिन्हा और चैप्टर के पूर्व चेयरमैन एचएन कर्मकार ने किया। स्वागत भाषण लेक्चरर शिव नारायण रॉय ने दिया। कहा कि मेडिकल, बैंकिंग, बीमा, रक्षा समेत विभिन्न क्षेत्रों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग किया जा रहा है। इस तकनीक का भारत में प्रचार-प्रसार होना बाकी है। बताया कि सर्जिकल स्ट्राइक, मिसाइल लांच करने में भी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग होता है। कार्यक्रम में वक्ताओं ने कहा कि हर चीज मशीन से चलना ठीक नहीं है। ऐसा होने से बेरोजगारी बढ़ जाएगी, लेकिन भ्रष्टाचार कम करने के लिए तकनीक का उपयोग जरूरी है। सिंफर, धनबाद के पूर्व निदेशक डॉ टीएन सिंह ने भी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर प्रकाश डाला। मौके पर चैप्टर के डॉ केके सिंह, डॉ ललन कुमार, डॉ एमके चंद्रा, केके सिंह आदि भी मौजूद थे।