• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • जब्त कार से मिले 30 एटीएम कार्ड पकड़ाए दो में एक बर्खास्त जवान
--Advertisement--

जब्त कार से मिले 30 एटीएम कार्ड पकड़ाए दो में एक बर्खास्त जवान

सोमवार देर रात बेकारबांध से साइबर अपराधी के संदेह में पकड़े गए दो लोगों में एक संजय कुमार झारखंड पुलिस का बर्खास्त...

Danik Bhaskar | Jul 11, 2018, 03:00 AM IST
सोमवार देर रात बेकारबांध से साइबर अपराधी के संदेह में पकड़े गए दो लोगों में एक संजय कुमार झारखंड पुलिस का बर्खास्त जवान है। रांची ट्रैफिक में वह तैनात था। रांची से उसका ट्रांसफर गुमला हुआ था लेकिन कहा जा रहा है कि पारिवारिक विवाद को लेकर कोर्ट के आदेश पर विभाग ने उसे बर्खास्त कर दिया। वहीं जब्त कार में से पुलिस को लगभग 30 एटीएम कार्ड मिले हैं, जो विभिन्न बैंकों का है। साथ ही रांची से धनबाद आने के क्रम में रामगढ़ सेना के कैंटीन में कपड़े और अन्य समानों की खरीदारी की गई है। फिलहाल पुलिस ने उसे जब्त कर लिया है। जब्त कार रांची की है। मालिक का नाम इमरान आलम है। कार के नंबर की जांच की जा रही है। पकड़े गए संजय कुमार और रंजीत से पुलिस पूछताछ कर रही है। भागे दो युवकों के बारे में पुलिस पता लगाने का प्रयास कर रही है। सभी कारसवार गया के रहने वाले बताए जा रहे हैं। उम्मीद है कि इस मामले में बड़ा खुलासा होगा।

ऐसे दिया था घटना को अंजाम

सोमवार की रात तेतुलमारी के रहने वाला अभिजित श्रमिक चौक पर स्थित एटीएम से पैसा निकालने गया था। ट्रेन से उतरने के बाद वह ऑटो रिजर्व किया था लेकिन उसके पास पैसे नहीं थे। एटीएम काउंटर के बाहर दो युवक खड़े थे। अभिजित पैसा निकालने एटीएम में गया। एटीएम कार्ड स्वैप किया लेकिन एटीएम काम नहीं कर रहा था। इसके बाद दोनों युवक एटीएम काउंटर में गए। अभिजित के हाथ से एटीएम कार्ड लेकर बताया कि इस तरह पैसा निकलेगा। इस दौरान अभिजीत के मोबाइल पर 20 हजार रुपए निकासी का मैसेज आ गया, पर पैसा नहीं निकला। इसके बाद वह युवक से अपना एटीएम कार्ड मांगा, तो 9-10 कार्ड जमीन पर गिरे। अभिजीत ने अपना कार्ड छीन लिया, तो दोनों कार में बैठ कर भाग निकले।

सड़क पर जाम नहीं होता तो भाग निकलते

इसके बाद अभिजीत अपने दोस्त के साथ कार का पीछा किया। संयोग से सोमवार की रात बेकारबांध में दुर्घटना के बाद सड़क जाम में कार फंस गई। पीछे से पहुंचा अभिजीत के शोर मचाने पर एटीएम का हेराफेरी करने वाला दो युवक कार से उतर कर भाग निकला। वहीं संजय और रंजीत पकड़े गए।