--Advertisement--

लहर लहर लहराई रे, मेरी मां की चुनरिया...

भगवती जागरण में देर रात तक झूमते रहे श्रद्धालु

Dainik Bhaskar

Jul 11, 2018, 03:00 AM IST
लहर लहर लहराई रे, मेरी मां की चुनरिया...
भगवती जागरण में देर रात तक झूमते रहे श्रद्धालु


सिटी रिपोर्टर | धनबाद

लहर लहर लहराई रे, मेरी मां की चुनरिया..., चलो बुलाया आया है, माता ने बुलाया है..., माता का दरबार सबसे बड़ा, एक बार दर्शन करले भक्तो... जैसे भक्ति गीत मंगलवार की रात गांधी नगर में गूंजते रहे। मौका था श्री सार्वजनिक महावीर मंदिर के दो दिवसीय वार्षिकोत्सव के समापन का। स्थानीय कलाकारों ने अपनी सुरीली आवाज में एक से बढ़कर एक भक्ति गीत प्रस्तुत कर समां बांध दिया। श्रोता देर रात तक झूमते रहे। इससे पहले शक्ति मंदिर से माता की ज्योत मंगवाई गई और विधिवत जागरण शुरू किया गया। उसके पहले भी कई अनुष्ठान हुए।

सुबह में भगवान महावीर की विधिवत पूजा-अर्चना की गई। भगवान का शृंगार किया गया। उसके बाद पूर्णाहुति पूजन की शुरूआत हुई। हवन, पूजन के बाद भगवान की आरती की गई। बड़ी संख्या में श्रद्धालु भगवान महावीर की आरती में शामिल हुए। भंडारे का आयोजन हुआ। देर शाम तक भक्तों ने भंडारे का प्रसाद ग्रहण किया। आयोजन से पूरा गांधी नगर का इलाका भक्तिमय हो गया।

X
लहर लहर लहराई रे, मेरी मां की चुनरिया...
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..