Hindi News »Jharkhand »Dhanbad» ढुल्लू ने Rs.10 करोड़ मांगे, वह मजदूरों के नाम पर अपनी जेब भरते हैं : शेट्टी

ढुल्लू ने Rs.10 करोड़ मांगे, वह मजदूरों के नाम पर अपनी जेब भरते हैं : शेट्टी

ओरिएंटल स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेड के असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट एसएस शेट्टी ने दूसरे दिन भी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 10, 2018, 03:05 AM IST

ढुल्लू ने Rs.10 करोड़ मांगे, वह मजदूरों के नाम पर अपनी जेब भरते हैं : शेट्टी
ओरिएंटल स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेड के असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट एसएस शेट्टी ने दूसरे दिन भी विधायक ढुल्लू महतो पर फिर से हमला बोला। कहा कि गोविंदपुर के ब्लॉक फोर एरिया में डीजीएमएस ने ब्लास्टिंग पर रोक लगा रखी है। जमीन का मसला भी अबतक नहीं सुलझा है। कोयला खनन का काम करने जाने पर रैयत पहुंच जाते है ओर काम बंद करा दे रहे है। वहीं, विधायक के गुंडों की दादागीरी ने परेशानी बढ़ा रखी है। विधायक ढुल्लू के सहयोगी गया सिंह ने सौ की जगह जबरन 150 कर्मी को बहाल कर रखा है। ऐसे में ढाई वर्षों में कंपनी को काफी नुकसान उठाना पड़ा है। इस बात से विधायक ढुल्लू महतो वाकिफ हैं। उन्होंने कहा कि कंपनी ने हालात को देखते हुए विधायक से इस सिलसिले में बात की थी। विधायक ढुल्लू ने प्रोजेक्ट पर काम बंद करने पर अपनी सहमति जताई और 10 करोड़ रुपए की मांग की। विधायक ने एक बार भी कार्यरत कर्मियों के बारे में नहीं सोचा। मजदूरों के कंधे पर बंदूक रख विधायक अपनी जेब गर्म करने में लगे हुए हैं।

विधायक गुंडों से डीजल खरीदने को विवश करते हैं

शेट्टी ने कहा कि विधायक अपने गुंडों से डीजल खरीदने का दबाव बनाते हैं। डीजल का क्वालिटी घटिया होती है। इसके इस्तेमाल से कंपनी के 150 वाहन में खराबी आ चुकी है। विधायक की नजर कंपनी के करोड़ों की मशीनों पर है। वे मशीनों को हड़पना चाहते हैं। लाख कोशिश कर लें, यहां कंपनी अपना एक नट नहीं छोड़ेगी।

शेट्टी का आरोप गलत, पूरे मामले की सीबीआई से जांच करा ली जाए : ढुल्लू

भास्कर न्यूज | कतरास

ओरिएंटल आउटसोर्सिंग कंपनी द्वारा लगाए गए आरोपों का विधायक ढुल्लू महतो ने सोमवार को जवाब दिया। विधायक ने कहा कि कंपनी के असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट शेट्टी का आरोप गलत है। मामले की सीबीआई जांच हो। सीबीआई जांच से दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। विधायक ने कंपनी के शेट्टी पर आरोप लगाते हुए कहा कि शेट्टी उनके आवास आए थे। शेट्टी चाहते थे कि वे कंपनी को बंद करा दें। ऐसा करने पर विधायक ढुल्लू का जो भी आदेश देंगे, उसे पूरा कर देंगे। विधायक ने कहा कि मजदूर हित में उन्होंने शेट्टी की बात मानने से इंकार कर दिया। शेट्टी की बात नहीं मानने पर उन पर झूठा आरोप लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एसएस सेठी यदि सही हैं तो गुरुद्वारा में घुसकर कसम खा लें। विधायक ने कहा कि तीन वर्षों तक सब ठीक ठाक चला। मजदूरों की मांगों को लेकर आगे आने पर झूठा आरोप लगाया जा रहा है। शेट्टी कंपनी को बंद कराना चाहते हैं। सात सौ मजूदरों का सवाल है, मरते दम तक मजदूर हित में लड़ते रहेंगे।

विधायक ने माना... मशीन ले जाई गई थी

विधायक ने कहा कि यह सही है कि समाज हित में संस्था के काम के लिए मशीन ले जाया गया था। मशीन वापस करने में एक दिन का विलंब भी हुआ। इसके एवज में डेमरेज चार्ज चाहिए तो संस्था से दिला देंगे। विधायक ने कहा कि शेट्टी पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के रिश्तेदार हैं। वे यहां के माफियाओं से साठगांठ बना कर राजनीति रंग देने का प्रयास कर रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhanbad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×