• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • बिरसा चौक पर एक मिनट रुके शाह, सुबह 6 बजे से ट्रैफिक रहा बाधित
--Advertisement--

बिरसा चौक पर एक मिनट रुके शाह, सुबह 6 बजे से ट्रैफिक रहा बाधित

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रांची एयरपोर्ट पहुंचकर बिरसा चौक पहुंचे और भगवान बिरसा मुंडा को पुष्प...

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 04:15 AM IST
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रांची एयरपोर्ट पहुंचकर बिरसा चौक पहुंचे और भगवान बिरसा मुंडा को पुष्प अर्पित किए। इसके बाद वे डिबडीह में आयोजित कार्यक्रम के लिए रवाना हो गए। बिरसा चौक में वे मुश्किल से एक मिनट रुके, लेकिन इसके लिए कड़ी पुलिस तैनाती के साथ ही बिरसा चौक को प्रातः 6 बजे से ही बेरिकेडिंग कर ट्रैफिक को सीमित कर दिया गया था। उनके एक मिनट के कार्यक्रम के लिए आम लोगों को सुबह से ही दिक्कत का सामना करना पड़ा।

नेता उवाच...

व्यर्थ नहीं जाने देना है पूर्वजों का बलिदान : अर्जुन मुंडा

पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि हमें अपने पूर्वजों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाने देना है। जिन सपनों को लेकर हमारे वीर योद्धाओं ने अपनी शहादत दी है, उन सपनों को हमें पूरा करना है। आंकड़े बताते हैं कि जनजातियों की संख्या आठ करोड़ है, पर सच यह है कि जनगणना के वक्त हमारे लोगों की असली संख्या सामने नहीं आ पाती क्योंकि वे देश के दूसरे शहरों में पलायन कर चुके होते हैं। मुंडा ने कहा कि झारखंड में 1717 में चुहाड़ विद्रोह हुआ था। 1784 में तिलका मांझी ने तीर के नोक पर अंग्रेज को मारा था। 1855 में वीर सिदो-कान्हू का हूल हुआ था। चांद-भैरव का बलिदान इतिहास में स्वर्णाक्षरों में है। मुगलकाल हो या अंग्रेज काल आदिवासियों ने लगातार लड़ाइयां लड़ी हैं।

आदिवासी भाजपा के साथ था, है और रहेगा : गिलुवा

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने कहा कि राज्य का आदिवासी समाज भाजपा के साथ था, भाजपा के साथ है और भाजपा के साथ ही रहेगा। हमें राष्ट्रविरोधी शक्तियों की चुनौतियों को परास्त करना है। हम उनसे लड़ेंगे और हराएंगे। पत्थलगड़ी के माध्यम से समाज को गुमराह करने की कोशिश हो रही है। भाजपा के कार्यकर्ता इसका मुंहतोड़ जवाब देंगे।

संस्कृति को बचाने का संकल्प लें : लुईस मरांडी

कल्याण मंत्री लुईस मरांडी ने कहा कि जनजातीय समाज के लिए यह बड़ा अवसर है। आज हमें अपनी संस्कृति और सामाजिक धरोहरों को बचाने का संकल्प लेना है। लुईस ने विभिन्न योजनाओं की चर्चा करते हुए कहा कि राज्य सरकार जनजातीय समाज के लिए चिंतित है तथा उनका उत्थान चाहती है।

लोकसभा के प्रभारियों की नियुक्ति

लोकसभा के प्रभारियों की नियुक्ति को भी मंजूरी मिली। उनके साथ बैठक नहीं परिचय हुआ। अमित शाह ने प्रभारियों से कहा कि अभी आप दो-तीन महीने काम कीजिए तब बैठक करेंगे। प्रभारियों के नाम इस प्रकार हैं-रांची-समीर उरांव, लोहरदगा-आदित्य साहू, राजमहल-कर्नल संजय सिंह, दुमका-सत्येंद्र सिंह, गोड्डा-अनंत ओझा, धनबाद-अशोक भगत, गिरिडीह-शेखर अग्रवाल, कोडरमा-बालमुकुंद सहाय, हजारीबाग-प्रदीप वर्मा, पलामू-संजय सेठ, खूंटी-विनय लाल, चतरा-विरंची नारायण, चाईबासा-मनोज सिंह और जमशेदपुर-दीपक प्रकाश।