धनबाद

  • Hindi News
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • डिनोबिली गोमो में छुट्टी के बाद दो घंटे तक बंद रहा 5 साल का अंश
--Advertisement--

डिनोबिली गोमो में छुट्टी के बाद दो घंटे तक बंद रहा 5 साल का अंश

गोमो के डिनोबिली स्कूल की छुट्टी हो जाने के बाद भी यूकेजी में पढ़नेवाला 5 साल का अंश कुमार शुक्रवार को करीब दो घंटे...

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2018, 03:55 AM IST
डिनोबिली गोमो में छुट्टी के बाद दो घंटे तक बंद रहा 5 साल का अंश
गोमो के डिनोबिली स्कूल की छुट्टी हो जाने के बाद भी यूकेजी में पढ़नेवाला 5 साल का अंश कुमार शुक्रवार को करीब दो घंटे तक कमरे में बंद रहा। उसे ढूंढ़ते हुए वहां पहुंचे चाचा सोमनाथ को पहले स्कूल के अंदर जाने से भी रोका गया। किसी तरह वे अंदर जाकर बच्चे की कक्षा में पहुंचे, तो वहां अंश रोता हुआ मिला। सोमनाथ बच्चे को घर ले गए। फिर स्कूल प्रबंधन के रवैए के खिलाफ हरिहरपुर थाने में एफआईआर दर्ज करा दी।

गोमो के सुभाष नगर में रहनेवाले तारकेश्वर प्रसाद का बेटा अंश वैन से स्कूल जाया-आया करता था। शुक्रवार को तय समय पर वह घर नहीं लौटा, तो परिजनों को चिंता हुई। वैन के चालक से भी संपर्क नहीं हो सका। उसके बाद बच्चे के चाचा सोमनाथ स्कूल पहुंचे। इस बीच करीब दो घंटे बीत चुके थे। स्कूल से भी बताया गया कि बच्चा वहां नहीं है। सोमनाथ स्कूल के अंदर जाकर देखना चाहते थे, लेकिन उन्हें ऐसा करने से रोका जा रहा था। किसी तरह धक्का-मुक्की कर वे बच्चे के कमरे तक पहुंचे, तो अंश वहीं रोता हुआ मिला।

हरिहरपुर थाने में शिकायत करने पहुंचे बच्चे के साथ अभिभावक।

स्कूल में ही था बच्चा, प्रबंधन ने फिर भी खबर नहीं की

बच्चे के चाचा सोमनाथ ने बताया कि अंश रोजाना 12 बजे तक घर आ जाता था। जब नहीं पहुंचा, तो चिंता हुई। इसके बाद जब स्कूल में फोन लगाया, तो जवाब मिला कि आप अपने वाहन के चालक से बात करें। जब वाहन चालक को फोन किया, तो उसने फोन नहीं उठाया। इसके बाद चिंता और बढ़ गई। जब वे स्कूल गए, तो गार्ड ने यह कहकर अंदर जाने से रोका कि वहां बड़े बच्चों की क्लास चल रही है। वे जब जबरन अंदर घुसे, तो बच्चा अपनी क्लास में ही मिल गया।



फूटा बच्चे के चाचा का गुस्सा

सोमनाथ का गुस्सा स्कूल प्रबंधन पर फूट पड़ा। उन्होंने शिक्षकों और कर्मियों को खूब भला-बुरा कहा। फिर वे वहां से निकल गए, लेकिन थाने जाकर लिखित शिकायत कर दी। हरिहरपुर के थाना प्रभारी देर शाम तक पूछताछ करते रहे। सोमनाथ ने कहा कि यह प्रबंधन की लापरवाही है। जब बच्चा स्कूल में छूट गया था, तो इसकी जानकारी अभिभावकों को दी जानी चाहिए थी।

X
डिनोबिली गोमो में छुट्टी के बाद दो घंटे तक बंद रहा 5 साल का अंश
Click to listen..