Hindi News »Jharkhand »Dhanbad» ...जब भगवान यमराज खुले में शौच करनेवालों को ले जाते हैं यमपुरी

...जब भगवान यमराज खुले में शौच करनेवालों को ले जाते हैं यमपुरी

सिंदरी महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं की ओर से परसबनियां गांव में स्वच्छता जागरूकता के लिए बुधवार को नुक्कड़ नाटक...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 12, 2018, 04:40 AM IST

सिंदरी महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं की ओर से परसबनियां गांव में स्वच्छता जागरूकता के लिए बुधवार को नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया। नाटक के दौरान एसबीएसआई के सदस्य अमरनाथ तिवारी यमराज और आशिष कुमार सिंह चित्रगुप्त के किरदार में थे। अन्य स्वच्छाग्रहियों ने ग्रामीण का किरदार निभाया। इसमें वह खुले में शौच कर गंदगी फैलाते हैं। गंदगी फैलाने वाले ग्रामीणों को समझाने यमराज और चित्रगुप्त पृथ्वीलोक पर आते हैं। जहां आकर धरती पर कुछ दूर भ्रमण करने पर यमदेव के पैरों में मनुष्यों द्वारा त्यागा गया मल लग जाता है। इस पर चित्रगुप्त व्यंग मारते हुए यमराज से कहते हैं मैंने तो पहले हीं कहा था। पृथ्वीलोक पर न जाएं अब आप भी अपवित्र हो गए महाराज”। इसके बाद यमराज खुले में शौच करते ग्रामीणों को समझाते हैं की यह उचित नहीं है। गंदगी ही मनुष्यों की बीमारी का कारण है। यह कृत्य पृथ्वी लोक की सौंदर्यता को खराब कर रहा है। इस पर ग्रामीण ढिठाई से यमदेव और चित्रगुप्त का मजाक उड़ाने लगते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhanbad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×