• Home
  • Jharkhand
  • Dhanbad
  • मनुष्य पहले अपने को जागृत करें, तभी समाज जागृत होगा: शास्त्री
--Advertisement--

मनुष्य पहले अपने को जागृत करें, तभी समाज जागृत होगा: शास्त्री

मनुष्य को समाज में कैसे रहना चाहिए और समाज के प्रति उनका क्या दायित्व है। इसका बोध होना चाहिए। तभी व्यक्ति और समाज...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:00 AM IST
मनुष्य को समाज में कैसे रहना चाहिए और समाज के प्रति उनका क्या दायित्व है। इसका बोध होना चाहिए। तभी व्यक्ति और समाज का कल्याण संभव है। उक्त बातें अलकडीहा शिव मंदिर प्रांगण में चल रहे सात दिवसीय श्री मद भागवत कथा के चौथे दिन कथा वाचक संदीप शास्त्री ने कही। उन्होंने कहा कि मनुष्य को पहले अपने आपको जागृत करना होगा। तभी हमारा समाज जागृत होगा। मनुष्य जीवन के क्या उद्देश्य है यह मनुष्य को समझना होगा। भागवत कथा में भगवान विष्णु के लीला का वर्णन है। भागवत कथा के सुमिरन से मानव जीवन के सभी कष्ट दूर होते है।

गोलकडीह में भागवत कथा वाचक संदीप शास्त्री।

श्रीश्री रामचरित मानस यज्ञ में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

टुंडी