Hindi News »Jharkhand »Dhanbad» बीसीसीएल के दो एरिया के पंेच में फंसा झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग

बीसीसीएल के दो एरिया के पंेच में फंसा झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग

झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग की स्थिति बद से बदतर हो गई है। सड़क गड्ढों में तब्दील हो गया है। बरसात के दिनों में सड़क...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 10, 2018, 04:20 AM IST

  • बीसीसीएल के दो एरिया के पंेच में फंसा झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग
    +1और स्लाइड देखें
    झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग की स्थिति बद से बदतर हो गई है। सड़क गड्ढों में तब्दील हो गया है। बरसात के दिनों में सड़क की हालत और भी दयनीय हो गई है। आए दिन छोटी-बड़ी दुर्घटनाएं होते रहती है। छोटे वाहनों का दुर्घटनाग्रस्त होना आम बात हो गयी है। उक्त मार्ग से बीसीसीएल को प्रतिमाह करोड़ों की आमदनी होती है, लेकिन इसकी सुधि लेने वाला कोई नहीं है। उक्त पथ पूर्व में पथ निमार्ण विभाग के जिम्मे था। समय-समय पर कार्य होते रहता था। उक्त पथ परियोजना क्षेत्र से गुजरने के कारण मरम्मत का कार्य बीसीसीएल प्रबंधन को सौंप दिया गया था। बीसीसीएल जब से उक्त पथ को अपने अधीन लिया तब से स्थिति बद से बदतर हो गई है। अब ताजा मामला बीसीसीएल की दो एरिया के बीच फंस गया है। बस्ताकोला महाप्रबंधक प्रत्येक दिन उक्त रास्ते से गुजरते हैं। लेकिन पूछे जाने पर उक्त सड़क पहचानने की घटना को एक सिरे से खारिज कर दिया। पिछले दिनों अलकडीहा निवासी सह भाजपा नेता बसंत मुखर्जी ने मुख्यमंत्री जनसंवाद में झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग की जर्जर स्थिति से अवगत कराया था।

    इसके बाद मुख्यमंत्री जनसंवाद की ओर से एक पत्र बसंत मुखर्जी को प्राप्त हुआ। सड़क की जांच करने की जिम्मेवारी बलियापुर कनीय अभियंता शंकर महताे एवं अलकडीहा पंचायत के सचिव नीलकंठ दास को दिया गया था। जांच रिपोर्ट भी सौंप दिया गया है। पथ निर्माण विभाग धनबाद ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि उक्त पथ को ज्यादा उपयोग बीसीसीएल के बस्ताकोला और लोदना एरिया करता है। अब इस पचरे में रोड़ की मरम्मत कार्य फंस गया है।

    झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग जर्जर हालत मंे, रास्ते में जहां-तहां गड्‌ढे।

    लोदना प्रबंधन ने खड़े किए हाथ :लोदना एरिया कहता है कि उक्त रोड का उपयोग बस्ताकोला एरिया ज्यादा करता है। बस्ताकोला एरिया चुपी साध रखा है। स्पष्ट है कि उपयोग जो भी करे हानि तो जनता को ही हो रही है। झरिया-बलियापुर मार्ग पर छोटे-बड़े वाहन सैकड़ों की संख्या में प्रतिदिन गुजरते हैं। इसके अलावा गोलकडीह, दोबारी, बेड़ा आदि कोलियरी क्षेत्रों से कोयले की ट्रांसपोर्टिंग इसी मार्ग से होती है। मैथन पावर प्लांट को कोयला हाइवा के द्वारा झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग से होकर ही जाती है। इसके अलावा झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग बंगाल को जोड़ने के लिए यही एक मुख्य मार्ग है। इससे रोजाना छोटे-बड़े वाहन झारखंड बंगाल आने जाने में इस मार्ग का सदुपयोग करते हैं। इतना महत्वपूर्ण मार्ग होते हुए भी इस मार्ग को देखने वाला आज कोई नहीं है। न सांसद है और न विधायक है। न ही ट्रेड यूनियन के नेता जो लंबे-लंबे वादे करते हैं। वैसे समाजसेवी जो समाज को नई दिशा दिखाने का काम करने का डिंग हांकते हैं वह भी इस मार्ग के लिए कभी खड़े नहीं दिखे। चुनाव आने पर आम जनता से कई वादे किए जाते हैं, लेकिन चुनाव खत्म होते ही ढाक के तीन पात वाली कहावत हो जाती है ।

    3 किमी तक की दूरी भगवान का नाम जपते तय करते हैं यात्री

    सड़क के बारे में नहीं है महाप्रबंधक को जानकारी

    उक्त सड़क की हमें कोई जानकारी नहीं है। जब तक नहीं देखेंगे तब तक कुछ नहीं कह सकता। मुख्यमंत्री जनसंवाद से अगर पत्र आया होगा तो आया होगा। हमें कोई जानकारी नहीं है। आरके सिंह महाप्रबंधक बस्ताकोला

    मोर्चा के नेता के तेवर आखिर क्यों पड़ गए हैं ढीले

    उक्त पथ को लेकर हमेशा आंदोलन होते रहा है। सड़क निर्माण संघर्ष मोर्चा हो संयुक्त मोर्चा सभी सड़क का जीर्णोद्धार को लेकर आंदाेलन करते रहे हैं। आंदोलन पूर्व में रंग लाया था। लेकिन हाल के दिनों वह तेवर नहीं दिख रहा है। करीब छह माह पूर्व आंदोलन किया गया था। सड़क पर नेता जी का तेवर देखने लायक था। जनता भी खुश थी। बस्ताकोला प्रबंधन वार्ता के लिए बुलाया। वार्ता के बाद नेताओं का तेवर शांत पड़ गया। चर्चा तो यहां तक है कि कुछ नेता जी उक्त पथ के नाम पर अपनी दुकानदारी चलाते रहते हैं। उक्त आंदोलन की आड़ में अपना कार्य से प्रबंधन से करवाते रहते हैं। कारण एेसा नहीं होता तो उक्त पथ का कायाकल्प पूर्व में ही हो गया होता। हाल के दिनों में उक्त पथ की स्थिति यह हो गई है कि जयरामपुर से लेकर झरिया स्टेशन रोड तक वाहन हिचकोले खाते हैं। चालक की थोड़ी असावधानी दुर्घटना का रूप ले लेता है।

  • बीसीसीएल के दो एरिया के पंेच में फंसा झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhanbad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×