मां पावा ते गढ़ थी उतरया रे महाकाली रे... रास-गरबा में झूमीं महिलाएं-युवतियां

Dhanbad News - शारदीय नवरात्र के पांचवे दिन गुरुवार को करबला रोड स्थित गुजराती स्कूल में आयोजित रास गरबा में सोना रावल, निरंजन...

Oct 04, 2019, 06:40 AM IST
शारदीय नवरात्र के पांचवे दिन गुरुवार को करबला रोड स्थित गुजराती स्कूल में आयोजित रास गरबा में सोना रावल, निरंजन राठौड़, दीपेश याज्ञनिक द्वारा प्रस्तुत पारंपरिक गुजराती गीत पर महिलाओं एवं बच्चियों ने झूमकर गरबा नृत्य किया। सोना रावल ने मां अंबे की आराधना में आरासुर धामे घुमी आव्यो एल्या गरबा, आरासुर धामे घुमी आव्यो रे लोल....पावागढ़ धामे घुमी आव्यो एल्या गरबा, पावागढ़ धामे घुमी आव्यो रे लोल...., शंखलपुर धामे घुमी आव्यो एल्या गरबा, शंखलपुर धामे घुमी आव्यो रे लोल...., मां पावा ते गढ़ थी उतरया रे महाकाली रे..., तारा विना श्याम मने एकलडु लागे... आदि पारंपरिक गुजराती गरबा गीत से माहौल भक्तिमय हो गया। श्रीमाड़ी ब्राह्मण महिला मंडल की ओर से प्रतियोगिता का अायाेजन किया गया। इसमें प्रिति त्रिवेदी, दीपाली त्रिवेदी, मिना त्रिवेदी, मयूरी ओझा, मौसमी त्रिवेदी आदि थीं।

गुजराती स्कूल में आयोजित डांडिया में शामिल महिलाएं।

गुजराती स्कूल में डांडिया पर झूमतीं महिलाएं-युवतियां

डांडिया पर डांस करती बच्ची।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना