शहर के 20 से ज्यादा बिचाली गोदाम बंद, मवेशी आहार पर आज से संकट

Dhanbad News - 21 दिनों के लॉकडाउन के चौथे दिन गुरुवार को बिचाली की कमी से शहर के 20 से ज्यादा गोदाम बंद कर हो गए हैं। ऐसे में पशुओं...

Mar 27, 2020, 06:36 AM IST

21 दिनों के लॉकडाउन के चौथे दिन गुरुवार को बिचाली की कमी से शहर के 20 से ज्यादा गोदाम बंद कर हो गए हैं। ऐसे में पशुओं के चारे पर संकट गहरा गया है। बंगाल से बिचाली के ट्रक नहीं पहुंचने से पशुओं को आहार मिलना मुश्किल हो गया है। जहां पशुओं का चारा उपलब्ध है, उन गोदामों में बिचाली लेने के लिए पशुपालकों की भीड़ देखी जा रही है। फिर भी चारा नहीं मिल रहा है। जिले में 80 से ज्यादा बिचाली के गोदाम संचालित हैं। शहरी क्षेत्र में सिर्फ 35 से ज्यादा बिचाली गोदाम हैं, जिनमें 20 गोदाम बंद हो गए। एक सप्ताह से बंगाल से बिचाली के ट्रक धनबाद नहीं पहुंचे हैं। ऐसे में पुराने स्टॉक से अब तक लोगों को बिचाली उपलब्ध कराई जा रही है। वहीं दुकानें बंद होने की वजह से लोग चोकर भी नहीं खरीद पा रहे हैं।

इधर...चारा के लिए डीसी काे किया ट्वीट

यादव महासभा के जिलाध्यक्ष सुंदर यादव ने उपायुक्त से मवेशियाें के लिए चारा उपलब्ध कराने की मांग की है। उन्हाेंने अाग्रह किया है कि पशुअाें के लिए आहार की भी समुचित व्यवस्था जिला प्रशासन करे। चारा नहीं मिला ताे हजारों मवेशियों की जान जा सकती है। हजारों मवेशी पालक बेरोजगार भी हो सकते है। इधर, शशि यादव ने भी उपायुक्त काे ट्वीट कर पशुअाें के लिए चारा की व्यवस्था करने की मांग की है।

दो गुनी कीमत पर बिक रही है बिचाली और कुट्टी

मांग के अनुरूप पूर्ति नहीं होने की वजह से असर सीधा बिचाली बाजार पर पड़ा है। पशु आहार बिचाली और कुट्टी दो गुनी कीमत पर बेची जा रही है। अन्य दिनों में जहां बिचाली से बनने वाली कुट्टी 7 रुपए किलो बाजार में उपलब्ध थी। उसकी कीमत आज 15 से 20 रुपए प्रति किलो पहुंच गई है। इससे पशुपालकों को अतिरिक्त बोझ पड़ रहा है।

सप्ताहभर से बंगाल से ट्रकों के नहीं पहुंचने से पशुपालकों की परेशानी बढ़ी

शहर में बिचाली की कमी से 20 से ज्यादा गोदाम बंद हो जाने से शुक्रवार से पशुओं के चारा मिलना मुश्किल होगा। शहर के डीएस कॉलोनी मोड़, भिश्तीपाड़ा, मनईटांड़, कुम्हारपट्‌टी, विनोद नगर, नया बाजार, वासेपुर, धनसार आदि स्थानों पर संचालित गोदामों में एक दिन की बिचाली का स्टॉक मौजूद है। यानी बंगाल से ट्रक नहीं पहुंचा तो शुक्रवार से गोपालकों को पशुओं के लिए चारा नहीं मिलेगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना