खुलासा / पारा टीचर हत्याकांड में आरोपी गिरफ्तार, अवैध संबंध के चलते घटना को दिया अंजाम

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2019, 07:25 PM IST


घटनास्थल पर महेश की लाश व जांच पड़ताल करती पुलिस। घटनास्थल पर महेश की लाश व जांच पड़ताल करती पुलिस।
X
घटनास्थल पर महेश की लाश व जांच पड़ताल करती पुलिस।घटनास्थल पर महेश की लाश व जांच पड़ताल करती पुलिस।
  • comment

  • महेश्वर की पत्नी से शादी कर चुका था दीपक, कहा- महेश्वर ने जान मारने की धमकी दी, इसलिए कर दी हत्या

पाकुड़. पारा शिक्षक महेश्वर की हत्या के 24 घंटे के अंदर ही पुलिस ने मामले का उद्भेदन करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। घटना सोमवार शाम को हुई थी। महेशपुर के भिलाई बरमसिया स्कूल से पारा शिक्षक महेश्वर हेम्ब्रम स्कूल से  घर  लौट रहे थे। इसी क्रम में पहले से घात लगाए बैठे पारा शिक्षक दीपक भगत व उसके अन्य दो साथियों ने महेश्वर पर ताबड़तोड़ चार गोलियां चला दीं, जिससे महेश्वर की मौके पर ही मौत हो गई थी। मौके से पुलिस को गोली के खोखे व अपराधी की बाइक मिली थी। जांच में पुलिस को त्रिकोणीय प्रेम प्रसंग का मामला पता चला। महेशपुर पुलिस ने मृतक की मां जगती सोरेन के लिखित बयान पर आरोपी पारा शिक्षक दीपक भगत के विरुद्ध भादवि की धारा 302 तथा 27 आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया, जबकि उसके अन्य दो साथी फरार हैं।  

 

मृतक के हैं दो बच्चे, 2013 में हुई थी शादी
पुलिस ने बताया कि महेश्वर हेम्ब्रम का विवाह शिकारीपाड़ा की उर्मिला मुर्मू से वर्ष 2013 में हुआ था। इनसे दो बच्चे भी हैं। महेश्वर महेशपुर में पारा शिक्षक थे, जबकि उनकी पत्नी उर्मिला अमड़ापाड़ा के कस्तूरबा गांधी अवासीय विद्यालय में शिक्षिका हैं। वर्ष 2017 में उर्मिला व अमड़ापाड़ा निवासी  तिलईपाड़ा संथाली स्कूल के पारा शिक्षक दीपक भगत एक -दूसरे के संपर्क में आए, फिर प्रेम करने लगा। महेश्वर को इसकी भनक लगते ही उसे नागवार गुजरा और दीपक व महेश्वर के बीच काफी झगड़ा होने लगा। बाद में उर्मिला का तबादला महेशपुर स्थित कस्तूरबा गांधी विद्यालय में हो गया। बावजूद इसके दीपक व उर्मिला का प्यार कम न हुआ। बताया जाता है कि दीप कुंवारा है। दीप दो बच्चों की मां उर्मिला मुर्मू से देवघर के बाबा मंदिर में गुपचुप तरीके से शादी भी कर ली थी।   

 

आरोपी ने कहा- जान से मारने की देता था धमकी
पुलिस सूत्रों के अनुसार आरोपी पारा शिक्षक ने अपने कबूलनामा में बताया है कि महेश्वर हमेशा उसे उर्मिला को छोड़ देेने नहीं तो जान से मारने की धमकी देता था। इससे भयभीत होकर उसने महेश्वर की ही हत्या कर देने की साजिश रची और सोमवार को दो सुपारी किलर के साथ उसकी हत्या कर दी। पुलिस को मौके से दीपक की पल्सर बाइक संख्या जेएच 04ई 8576 भी मिली थी जिसके आधार पर उसे गिरफ्तार किया गया।  

 

क्या कहती है पुलिस  
महेशपुर के एसडीपीओ शशि प्रकाश का कहना है कि आरोपी दीपक भगत को गिरफ्तार किया गया है। उसने हत्या में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है। हत्या में शामिल अन्य दो अपराधी फरार हैं, जिन्हें पुलिस जल्द गिरफ्तार कर लेगी। वहीं पारा शिक्षक की पत्नी उर्मिला मुर्मू से भी पूछताछ की गई है और अनुसंधान जारी है।   

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन