--Advertisement--

धनबाद: मामा ने पुलिस से कहा- हर्ष ने दी थी पिस्टल, दोस्त के साथ मिल मैंने मारी थी रंजय को गोली

रंजय हत्याकांड में सरायढेला पुलिस ने शनिवार को कोर्ट से मामा को दो दिनों के रिमांड पर लिया है

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 04:40 PM IST
पुलिस हिरासत में बीच में नंदकु पुलिस हिरासत में बीच में नंदकु

धनबाद. विधायक संजीव सिंह के करीबी रंजय सिंह की हत्या हर्ष सिंह ने कराई थी। हर्ष, स्व नीरज सिंह का मौसेरा भाई है। उसने नंदकुमार सिंह उर्फ मामा को रंजय की हत्या करने के लिए बोला था। पुलिस द्वारा रिमांड पर लेकर की गई पूछताछ में यह बात सामने आई है। पूछताछ में मामा ने पुलिस को बताया है कि हत्या के लिए हर्ष ने ही पिस्टल उपलब्ध कराई थी। एक दोस्त के साथ मिलकर उसने रंजय सिंह की हत्या की।

रंजय हत्याकांड में सरायढेला पुलिस ने शनिवार को कोर्ट से मामा को दो दिनों के रिमांड पर लिया है। रिमांड की अवधि खत्म होने पर मामा को सोमवार को वापस जेल भेज दिया गया। रविवार को एसएसपी व सिटी एसपी ने घंटों मामा से पूछताछ की। हालांकि अधिकारियों ने पूछताछ के बारे में कुछ भी जानकारी देने से इंकार कर दिया। वहीं रंजय हत्याकांड में मामा के द्वारा नाम लिए जाने पर पुलिस हर्ष सिंह पर शिकंजा कसने की तैयारी में हैं। साथ ही हत्याकांड में हर्ष के पीछे कौन-कौन है, पुलिस इसकी भी जांच कर रही है।

मामा ने बताया विवाद का कारण
मामा ने पुलिस को बताया है कि घटना के कुछ दिन पहले विवाद हुआ था। विधायक संजीव सिंह का काफिला झरिया से धनबाद आ रहा था। हर्ष भी झरिया से धनबाद आ रहा था। हर्ष के साथ वह खुद था और विधायक के काफिले में रंजय भी शामिल था। बस्ताकोला में विधायक की गाड़ी हर्ष के पीछे थी और आगे बढ़ने के लिए चालक पास मांग रहा था, लेकिन हर्ष पास नहीं दे रहा था। हालांकि पास लेने के बाद रंजय ने पिस्टल चमकाया था। यह बात हर्ष को बुरी लगी थी और उसने रंजय को रास्ते से हटाने की बात कही थी। इसके बाद रंजय की हत्या की प्लानिंग बनने लगी और मौका देखकर उसकी हत्या कर दी गई।

नवंबर 2017 में पुलिस ने हर्ष से की थी पूछताछ
रंजय हत्याकांड में सरायढेला पुलिस 30 नवंबर 2017 को हर्ष सिंह से पूछताछ की थी। सरायढेला में स्थित एक मॉल में हुए विवाद में पुलिस ने हर्ष को हिरासत में लिया था। वहीं थाने में रंजय हत्याकांड में पुलिस ने 15 घंटे तक उससे पूछताछ की थी। हर्ष ने पुलिस को बताया था कि वह मामा का जानता है। मामा उसके आरा बेरथ का होने के कारण उसे जानता है। उस समय पुलिस ने मामा के बारे में जानकारी चाही तो हर्ष ने कहा था कि मामा कहां है, वह नहीं जानता है। पुलिसिया पूछताछ के बाद हर्ष को पीआर बांड पर छोड़ दिया था।

कौन है हर्ष सिंह
हर्ष कोयला काराेबारी संजय सिंह का पुत्र है। संजय सिंह की हत्या 27 मई 1996 में लूबी सर्कुलर रोड पर एसपी आवास के सामने दिन के दस बजे गोली मारकर कर दी गई। घटना के समय कोयला व्यवसायी सुरेश सिंह गाड़ी चला रहे थे। हमलावरों ने कार में ही संजय सिंह को गोली मार दी थी।

हमेशा हर्ष सिंह के साथ रहता था मामा
नंदकुमार सिंह उर्फ मामा और हर्ष सिंह के बीच काफी करीबी रिश्ता था। हर्ष सिंह का साथ मिलने के बाद रघुकुल भी उसका ठिकाना बन गया था। हर्ष के साथ ही वह ज्यादा रहता था। हर्ष के चलते वह मामा के नाम से जाना जाता था। हर्ष के साथ वह धैया रानीबांध में रह कर उसके कारोबार को भी देखता था। यही कारण है कि रंजय सिंह हत्याकांड के बाद पुलिस ने हर्ष के घर पर भी छापेमारी की थी। इससे पूर्व मामा को पुलिस ने आरा से गिरफ्तार किया था।

X
पुलिस हिरासत में बीच में नंदकुपुलिस हिरासत में बीच में नंदकु
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..