--Advertisement--

सकलदेव सिंह मर्डर केस : आरोपी रामधीर बोले- मैंने नहीं रची साजिश, मैं बेकसूर

रामधीर ने सभी सवालों के जवाब दिए। उन्होंने खुद को बेकसूर बताया। कहा कि उन्होंने कोई साजिश नहीं रची।

Danik Bhaskar | Jul 11, 2018, 11:29 AM IST

धनबाद. सकलदेव सिंह की हत्या के मामले में आरोपी रामधीर सिंह ने मंगलवार को अदालत में सफाई बयान दिया। उन्होंने अपने अधिवक्ता अभय कुमार सिन्हा की मौजूदगी में एडीजे 7 रिजवान अहमद के सामने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बयान दिया। अभियोजन पक्ष से वटेश्वर झा मौजूद थे।

25 जनवरी 1999 को हुई थी हत्या

एडीजे रिजवान अहमद ने कहा कि 25 जनवरी 1999 को सकलदेव सिंह की जिप्सी पर भूली मोड़ के पास गोलियां बरसाई गई थीं। बुरी तरह से जख्मी सकलदेव की अस्पताल में मृत्यु हो गई थी। जिप्सी के चालक मनोज भी मारे गए थे। सकलदेव अपने भाई विनोद सिंह की हत्या के मामले में पैरवी करते थे। अदालत ने रामधीर से कहा कि सकलदेव की हत्या के समय वे जेल में थे। उन पर बच्चा सिंह, राजीव रंजन के साथ मिलकर हत्या का षड्यंत्र रचने का आरोप है। उन्हें जेल गेट पर अपराधियों से मिलकर बातें करते हुए भी देखा गया था।

रामधीर सिंह ने दिए सभी सवालों के जवाब

रामधीर ने सभी सवालों के जवाब दिए। उन्होंने खुद को बेकसूर बताया। कहा कि उन्होंने कोई साजिश नहीं रची। गौरतलब है कि सकलदेव की हत्या के बाद उनके भाई दून बहादुर सिंह ने रामधीर आदि पर हत्या का आरोप लगाया था।