विज्ञापन

अलर्ट / स्मार्ट मीटर लगा लें, 1 अप्रैल से जनरल मीटर का इस्तेमाल हो जाएगा गैरकानूनी

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 12:08 PM IST


Take a smart meter, General Meters will be used illegal from April 1
X
Take a smart meter, General Meters will be used illegal from April 1
  • comment

  • आपका मीटर जनरल तो नहीं, जेबीवीएनएल ने स्मार्ट मीटर लगाने की अंतिम तिथि 31 मार्च तय की

धनबाद. अगर आप जनरल मीटर इस्तेमाल कर रहे हैं तो यह खबर आपके लिए जरूरी है। 1 अप्रैल से घर व प्रतिष्ठान में लगे जनरल मीटर का इस्तेमाल गैरकानूनी होगा। झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड (जेबीवीएनएल) ने जनरल मीटर को बदल कर स्मार्ट मीटर लगाने की अंतिम तिथि 31 मार्च तय की है। जेबीवीएनएल ने कहा है कि एक अप्रैल से जो उपभोक्ता जनरल मीटर का इस्तेमाल करते पकड़े जाएंगे, वे बिजली चोरी के दोषी होंगे। छापेमारी कर जनरल मीटर इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ताओं को पकड़ा जाएगा। उनके खिलाफ बिजली चोरी के साथ-साथ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने का मामला दर्ज हाेगा। यही नहीं, ऐसे उपभोक्ताओं से जुर्माना भी वसूला जाएगा। दरअसल, जनरल मीटर में यूनिट संबंधित कई खामियां हैं। बिजली खपत के अनुसार जनरल मीटर के यूनिट पर कंट्रोल काफी कमजोर है। ऐसे में ज्यादा बिजली की खपत पर भी कम बिल का भुगतान किया जा रहा है। इसे देखते हुए जेबीवीएनएल ने जनरल मीटर को हटाने का नियम बनाया है।

90 हजार उपभोक्ता जनरल व मैनुअल मीटर का कर रहे इस्तेमाल

  1. बिजली वितरण निगम के अनुसार धनबाद एरिया बोर्ड में करीब 90 हजार से ज्यादा उपभोक्ता जनरल व इलेक्ट्रो मैकेनिकल मीटर का इस्तेमाल कर रहे हैं। धनबाद सर्किल में 60 हजार से ज्यादा कंज्यूमर के यहां अब तक स्मार्ट मीटर नहीं लगाए गए हैं। वहीं, करीब 30 हजार से ज्यादा कंज्यूमर वर्षों से मीटर खराब होने के बावजूद जनरल व इलेक्ट्रो मेकेनिकल मीटर का इस्तेमाल कर रहे हैं।

  2. जेबीवीएनएल ने गठीत की टीम जिले में चलाएगी विशेष अभियान

    जनरल मीटर का इस्तेमाल करने वाले कंज्यूमर पर कार्रवाई करने के लिए टीम के गठन किया जाएगा। जनरल मीटर का इस्तेमाल करने वाले कंज्यूमर की पूरी लिस्ट बिजली विभाग के पास है। एक अप्रैल से टीम के सदस्य उपभोक्ताओं के घर, प्रतिष्ठान जाकर एक सप्ताह के अंदर मीटर लगाने का नोटिस जारी करेंगे।

  3. जानिए, कैसे पहचानेंगे स्मार्ट मीटर

    स्मार्ट मीटर डिजिटल प्रणाली से लैस होता है। इस मीटर का यूनिट रीडिंग डिजिटलाइज अंकित होता है। मीटर में लगे लाइट हर बिजली की खपत पर ब्लिंक होती है। जितना बिजली का लोड होगा, उतनी ही तेजी के साथ मीटर में लगा लाइट ब्लिंक करेगा। जबकि जनरल मीटर में यूनिट का रीडिंग को सिर्फ देखा जा सकता है। इसमें बिजली की खपत की सही जानकारी नहीं मिलती।

  4. सबस्टेशनों का फोन नंबर बदला

    बिजली संबंधित शिकायत के लिए हीरापुर और मनईटांड़ विद्युत सबस्टेशन का फोन नंबर बदल गया है। हीरापुर सबस्टेशन क्षेत्र के उपभोक्ता अब 9065619232 और मनईटांड़ विद्युत सबस्टेशन क्षेत्र के उपभोक्ता 8757058488 पर बिजली संबंधित शिकायत दर्ज करा सकते हैं। विभाग का कहना है कि दोनों सबस्टेशन क्षेत्रों में बिजली संबंधित शिकायत अब नए नंबर पर ही ली जाएगी। धैया और पीएमसीएच सबस्टेशन क्षेत्र का पुराना नंबर ही काम कर रहा है। धैया विद्युत सबस्टेशन का 9931159115 एवं पीएमसीएच विद्युत सबस्टेशन का 9471754695 मोबाइल नंबर पर बिजली संबंधित शिकायत करा सकते हैं।

  5. 31 मार्च तक स्मार्ट मीटर नहीं लगाने वाले पर होगी एफआईआर : एसई

    हर हाल में 31 मार्च तक उपभोक्ताओं को घर व प्रतिष्ठान में स्मार्ट मीटर लगाना होगा। जनरल मीटर को बदलकर स्मार्ट मीटर नहीं लगाने वाले कंज्यूमर पर बिजली चोरी का मामला दर्ज किया जाएगा। विभाग को घाटे से उबारने के लिए बिजली चोरी कानून में संशोधन किया गया है। -विनय कुमार, एसई, धनबाद एरिया बोर्ड

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन