गिरिडीह / महिला की मौत; पति का आरोप- 2 दिन से घर में चूल्हा नहीं जला, भूख से चली गई जान



विलाप करते परिजन। विलाप करते परिजन।
X
विलाप करते परिजन।विलाप करते परिजन।

  • आवेदन के एक साल बाद भी नहीं बना है राशन कार्ड, डीसी बोले- कार्रवाई होगी
  • बीएसओ ने कहा- परिवार को दिया जाता है अनाज, बीडीओ बोले- जांच की जाएगी

Dainik Bhaskar

Nov 06, 2019, 03:06 AM IST

जमुआ (गिरिडीह). चिलगा पंचायत के चिरुडीह गांव में सावित्री देवी (48) की मंगलवार सुबह मौत हो गई। उसके पति रामेश्वर तुरी ने आरोप लगाया है कि अनाज नहीं होने से उसके घर में दो दिन से चूल्हा नहीं जला है। भूख के कारण उसकी पत्नी की मौत हुई है। उसने राशन कार्ड बनाने के लिए प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी (बीएसओ) को पिछले साल ही आवेदन दिया था,जाो अब तक नहीं बना है।

 

इधर, मुखिया हनीफ अंसारी ने बताया कि जांच के बाद ही पता चलेगा कि सावित्री की मौत भूख से हुई है या बीमारी से। रामेश्वर का राशन कार्ड बनाने के लिए उन्होंने खुद फॉर्म भरकर बीएसओ को दिया था। वहीं डीसी राहुल सिन्हा ने कहा कि यदि ऐसी घटना घटी है तो दोषियों पर कार्रवाई होगी।

 

बीएसओ ने कहा- परिवार को दिया जाता है अनाज
बीएसओ राजीव रंजन ने बताया कि राशन कार्ड नहीं होने के बावजूद उस क्षेत्र का डीलर परिवार को अनाज देता है। सावित्री की मौत भूख से नहीं हो सकती। हां, रामेश्वर का राशन कार्ड क्यों नहीं बना, जांच करेंगे।

 

बीडीओ बोले- मौत की वजह की जांच की जाएगी  
जमुआ के बीडीओ विनोद कर्मकार ने कहा कि रामेश्वर के आरोप की जांच की जाएगी। महिला की मौत भूख से हुई या कुछ और वजह है, जांच की जाएगी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना