• Home
  • Jharkhand News
  • Domchanch
  • स्थानीय नीति में बदलाव नहीं किया गया तो सड़क से सदन तक होगा आंदोलन
--Advertisement--

स्थानीय नीति में बदलाव नहीं किया गया तो सड़क से सदन तक होगा आंदोलन

प्रदेश कुशवाहा महासभा की बैठक मंगलवार को मेहता भवन में हुई। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व सांसद भुनेश्वर...

Danik Bhaskar | Feb 21, 2018, 02:30 AM IST
प्रदेश कुशवाहा महासभा की बैठक मंगलवार को मेहता भवन में हुई। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व सांसद भुनेश्वर प्रसाद मेहता व विशिष्ट अतिथि के रूप में महासभा के प्रदेश अध्यक्ष हकीम चंद्र महतो और देवेंद्र मेहता मौजूद थे। मौके पर मुख्य अतिथि पूर्व सांसद भुनेश्वर ने कहा कि सरकार पिछड़ी जातियों को स्थानीय नीति के आधार पर बांटने का काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा लगाए गए त्रुटिपूर्ण स्थानीय नीति में बदलाव नहीं किया गया, तो सड़क से लेकर संसद तक आंदोलन छेड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि पूरे देश में भय, भूख, भ्रष्टाचार का बोलबाला है। यदि समाज के लोग शीघ्र सजग व राजनीति गतिविधियों में सक्रिय नहीं हुए तो इसकी बड़ी कीमत चुकानी होगी। बैठक की अध्यक्षता करते हुए कांग्रेस नेत्री लीलावती मेहता ने कहा कि सामाजिक गतिविधियों में महिलाओं को अधिक से अधिक भागीदारी व जवाबदेह सुनिश्चित करनी होगी, तभी समाज की दिशा व दशा में बदलाव आएगा। बैठक को प्रदेश अध्यक्ष हकीम महतो, बटेश्वर मेहता, अयोध्या प्रसाद, देवेंद्र मेहता आदि ने भी संबोधित किया। बैठक के दौरान जिले सहित पूरे प्रदेश में महासभा की मजबूती, आम लोगों तक समाज के प्रति सक्रियता बढ़ाने व राजनीतिक क्षेत्र में समाज की मजबूत दावेदारी और पकड़ बनाने पर विचार विमर्श किया गया। बैठक का संचालन प्रो. युगलकिशोर ने किया। मौके पर सुरेंद्र मेहता, शिवनारायण मेहता, भरत नारायण मेहता, मुखिया राजेंद्र मेहता, मीरा मेहता, शकुंतला मेहता, सरोज मेहता, दिलीप मेहता, नीलम देवी, पूनम देवी सहित दर्जनों लोग मौजूद थे।

बैठक में मौजूद लोग।